चीन शासित तिब्बत सीमा तक जाने वाली समदो-काजा-ग्रांफू सड़क का सर्वे पूरा कर लिया गया,जल्द शुरू होगा काम

हिमाचल प्रदेश में सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण चीन शासित तिब्बत सीमा तक जाने वाली समदो-काजा-ग्रांफू सड़क का सर्वे पूरा कर लिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार 205 किलोमीटर की इस सड़क को लोक निर्माण विभाग ने अपने अधीन ले लिया है। इसी के साथ बताया जा रहा है की सेना के जवानों को आने-जाने में दिक्कत न हो, इसको लेकर सड़क पर पैचवर्क का काम शुरू कर दिया है।

सरकार ने कुंजुम दर्रा के पास सड़क को यातायात के लिए बहाल कर दिया

इसी के साथ प्रदेश सरकार ने कुंजुम दर्रा के पास सड़क को यातायात के लिए बहाल कर दिया है। हाल ही में हुए चीन के साथ विवाद को लेकर इस सड़क का कार्य जल्द पूरा होना जरूरी है। जिस से भारीय सेना को आने जाने और जरूरी सामान ले जाने में आसानी होगी।

सड़क यातायात के लिए बाधित न हो, इसके लिए सरकार ने हमीरपुर, नारकंडा, एनएच से बॉर्डर रोड को दुरुस्त करने के लिए मशीनरियां भेजी

जनकारी के अनुसार अब सेना के जवान किन्नौर के बजाय सीधे कुंजुम होकर समदो जा सकेंगे। इसी के साथ सड़क को चौड़ा करने के लिए डीपीआर तैयार की जा रही है। बताया जा रहा है की अगले महीने टेंडर आमंत्रित किया जाएगा। इसी के साथ ही सड़क यातायात के लिए

बाधित न हो, इसके लिए सरकार ने हमीरपुर, नारकंडा, एनएच से बॉर्डर रोड को दुरुस्त करने के लिए मशीनरियां भेज दी हैं। तथा जल्द ही इस पर कार्य को पूरा कर लिया जाएगा। सरकार का मानना है कि ग्लेशियर और मलबा आने से सड़क यातायात के लिए बाधित होती है। इसके चलते मशीनरियों को मौके पर भेजा गया है।

काजा से आगे अब बीआरओ की लेबर नहीं करेगी कार्य, सरकार ने अपनी लेबर भेजनी शुरू कर दी

इसी के साथ सरकार सड़क दुरुस्त करने को लेबर भी भेज रही है। काजा से आगे अब बीआरओ की लेबर नहीं है। प्रदेश सरकार ने अपनी लेबर भेजनी शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार नेशनल हाइवे के एसई दीपक राज ने बताया कि सड़क को दुरुस्त करने के लिए मशीनरी भेजनी शुरू कर दी है। इसी के साथ कई मशीनरियां पहुंच गई हैं। साथ ही कुंजुम दर्रे को बहाल कर दिया है।

साथ ही लोक निर्माण विभाग के इंजीनियर इन चीफ भुवन शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार इस सड़क को लेकर काफी गंभीर है। साथ ही उन्होंने इसकी डीपीआर तैयार की जा रही है। साथ ही जल्द कार्य को पुरा कर के इस को यातायात के लिए खोल दिया जाएगा।

Survey of Samdo-Kaza-Grandfu road leading to China-ruled Tibet border has been completed, work will start soon

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *