दिल्ली से हिमाचल आ रहे 62 साल के बुजुर्ग की रास्ते में हुई मौत, दिल्ली के अस्पतालों में बेड न मिलने से आ रहे थे हिमाचल

हिमाचल प्रदेश के एक व्यक्ति की दिल्ली के अस्पतालों में बेड न मिलने से मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के एक बुजुर्ग की सोमवार तड़के हुए मौत हो गई। जयसिंहपुर के आलमपुर निवासी 62 साल का बुजुर्ग करीब 35 वर्षों से दिल्ली में परिवार के साथ रह रहा था। जानकारी के अनुसार यह बिजली बोर्ड दिल्ली से सेवानिवृत्त होने के बाद वहीं रह रहा था। कुछ दिन पहले ही यह व्यक्ति निमोनिया की चपेट में आ गया।

इस बुजुर्ग को कई दिन ने दिल्ली के अस्पतालों में बेड नहीं मिल रहा था। इसके बाद परिजनों ने डीसी कांगड़ा राकेश प्रजापति से फोन पर मदद मांगी थी।

डीसी काँगड़ा ने दिल्ली के एक डीएम से बात कर बुजुर्ग का कोरोना टेस्ट करवाया

इसी के साथ काँगड़ा के डीसी ने कहा कि पहले बुजुर्ग का दिल्ली में कोरोना टेस्ट करवाना होगा, उसके बाद वह कांगड़ा में लाकर इलाज करवा देंगे। इसी क साथ डीसी ने दिल्ली के एक डीएम से बात कर बुजुर्ग का कोरोना टेस्ट करवा दिया। साथ ही रविवार को सैंपल रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उसके बाद डीसी ने परिजनों से कहा कि वह बुजुर्ग को कांगड़ा लाएं। यहां यहां उसका इलाज करवाया जाएगा। परिजन बुजुर्ग को एंबुलेंस से लाने की तैयारी कर रहे थे कि सोमवार सुबह 4 बजे उसने दम तोड़ दिया। मौत की खबर सुनकर डीसी भी दुखी हो गए। तथा बुजुर्ग की मौत का शोक जताया।

पत्नी और बेटी सोमवार को एंबुलेंस से आलमपुर पहुंचे

इसी के साथ उन्होंने पार्थिव शरीर लाने की अनुमति इसलिए दी क्योंकि बुजुर्ग की आखिरी इच्छा थी कि उसका अंतिम संस्कार उसके पैतृक गांव में ही हो। इसी के साथ बुजुर्ग को उसकी पत्नी और बेटी सोमवार को एंबुलेंस से आलमपुर पहुंचे उनका बेटा लॉकडाउन से पहले ही मार्च में दिल्ली से आलमपुर आया था। बेटे ने अपने पिता को मुखाग्नि दी। साथ ही अंतिम संस्कार में परिवार से 5 और प्रशासन से 4 लोग मौजूद रहे। बुजुर्ग का अंतिम संस्कार प्रशासन की देखरेख में हिंदु रीति-रिवाजों के अनुसार आलमपुर में व्यास नदी के किनारे हुआ।

अंतिम संस्कार प्रशासन की देखरेख में हिंदु रीति-रिवाजों के अनुसार आलमपुर में हुआ

सोमवार दोपहर बाद बुजुर्ग का अंतिम संस्कार प्रशासन की देखरेख में हिंदु रीति-रिवाजों के अनुसार आलमपुर में व्यास नदी के किनारे हुआ। इस मौके पर उपमंडलाधिकारी जयसिंहपुर विक्रम महाजन, पंचायत प्रधान मनोहर लाल, नायब तहसीलदार हंसराज, कानूनगो कुशल सिंह व लंबागांव पुलिस के एसएचओ रूपलाल ठाकुर मौजूद रहे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *