हिमाचल में जयराम सरकार का बड़ा एलान, जुलाई में लिया जाएगा शैक्षणिक संस्थानों को खोलने का फैसला, जानिए पूरी जानकारी

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने लिया शैक्षणिक संस्थानों को खोलने से सबंदित फैसला। प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में शैक्षणिक संस्थानों को अभी नहीं खोला जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शैक्षणिक संस्थानों को खोलने का फैसला जुलाई महीने में लिया जाएगा। प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सोमवार को सोशल मीडिया पर वीडियो संदेश में यह जानकारी दी।

15 जून तक स्कूलों में छुट्टियां घोषित

हिमाचल प्रदेश सरकार ने 01 जून से 15 जून तक स्कूलों में छुट्टियां घोषित की हैं। यह फैसला प्रदेश सरकार ने हिमाचल प्रदेश में फैले कोरोना वायरस की बजह से ली है। इससे पहले 18 मई से 31 मई तक स्कूलों में छुट्टियां की गई थीं। कॉलेजों में 10 जून तक छुट्टियां की गई हैं।

15 जून के बाद शिक्षण संस्थानों को चरणबद्ध तरीके से खोल सकती है प्रदेश सरकार

इसिक साथ विश्वविद्यालय को लेकर अलग से योजना बनाई जा रही है। इसी के साथ संभावना जताई जा रही थी कि 15 जून के बाद शिक्षण संस्थानों को चरणबद्ध तरीके से सरकार खोल सकती है लेकिन सोमवार देर शाम को प्रदेश के मुख्यमंत्री ने वीडियो संदेश में यह स्पष्ट किया है कि शैक्षणिक संस्थानों को खोलने का फैसला जुलाई में लिया जाएगा। उसी के बाद हिमाचल में शैक्षणिक संस्थानों को शुरू किया जाएगा। प्रदेश में फैले कोरोना महामारी की बजह से यह निर्णय लिया गया है।

हिमाचल में 08 जून से सभी धार्मिक स्थल होंगे ओपन, केवल हिमाचल वासियो को ही प्रवेश

हिमाचल प्रदेश के सीएम ने ये भी हा कि हिमाचल में आठ जून से सभी धार्मिक स्थलों को खोल दिया जाएगा। इस से प्रदेश वासी अब धार्मिक स्थलों के भी दर्शन कर पाएंगे। प्रदेश एम् स्तिथ इन धार्मिक स्थलों में केवल हिमाचल के लोग ही दर्शन कर सकेंगे। इसी के साथ बाहरी राज्यों के लोगों को दर्शन की अनुमति नहीं होगी। इसके साथ ही 08 जून से होटल और रेस्तरां भी खोल दिए जाएंगे।

होटल और रेस्तरां को भी किया जाएगा शुरू

जिस से प्रदेश वासी होटल और रेस्तरां में जा पाएंगे। इनमें केवल हिमाचल के लोग ही ठहर या खाना खा सकेंगे। इसी के साथ पर्यटकों को अनुमति नहीं होगी। हालांकि बाहर से किसी काम से पास के माध्यम से हिमाचल आने वाले लोग होटल में ठहर सकेंगे।

सामाजिक दूरी का भी रखना होगा विशेष ध्यान

इसी के साथ रेस्तरां 60 फीसदी क्षमता के साथ काम करेंगे। तथा प्रदेश में फैली कोरोना महामारी की बजह से बनाये गए नियमों का पालन करना होगा तथा सामाजिक दूरी का ध्यान रखना होगा। हिमाचल के सीएम ने कहा कि बसों में बिना मास्क यात्रियों को बैठक की अनुमति नहीं होगी। इसी के साथ जिले के अंदर और एक से दूसरे जिले के लिए अब पास की जरूरत नहीं है। लेकिन बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों के लिए पास जरूरी है। यदि कोई हिमाचल प्रदेश आता है तो उस के लिए उसके पास का पास का होना जरूरी है।

Jairam government’s big announcement in Himachal, decision to open educational institutions will be taken in July, know full details

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *