हिमाचल में अप्रैल और मई के बिजली बिल जमा न करवाने वाले उपभोक्ताओं को नोटिस जारी किए

हिमाचल प्रदेश में अप्रैल और मई के बिजली बिल जमा न करवाने वाले उपभोक्ताओं को नोटिस जारी किए जाएंगे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार लॉकडाउन अवधि के बिल जमा न होने से बिजली बोर्ड का बकाया 560 करोड़ पहुंच गया है। इसी के साथ हिमाचल प्रदेश में कई घरेलू और व्यवसायिक उपभोक्ताओं ने अभी तक बिजली बिल जमा नहीं करवाए हैं।

बताया जा रहा है की नोटिस के माध्यम से बिजली बोर्ड ने कनेक्शन काटने से अभी गुरेज किया है।

30 जून तक बिल जमा करवाने की चेतावनी जारी

इसी के साथ सिर्फ 30 जून तक बिल जमा करवाने की चेतावनी जारी करने का फैसला लिया है। साथ ही बिजली बोर्ड प्रबंधन ने सभी फील्ड अधिकारियों को जारी किए आदेशों में स्पष्ट किया है

कि बिजली बिल की देय राशि को जमा करवाने के लिए पूरी मेहनत से कार्य किया जाए। ताकि समय रहते प्रदेश में लोग अपना बिजली का बिल का भुगतान कर दे।

फील्ड अधिकारियों को चेतावनी पत्र का एक परफार्मा भी भेजा गया

प्राप्त जानकारी के अनुसार बिल राशि जमा न होने से बोर्ड को आर्थिक तौर पर नुकसान हो रहा है। इसी के साथ अन्य खर्च पूरा करना मुश्किल हो गया है।

इन आदेशों के साथ फील्ड अधिकारियों को चेतावनी पत्र का एक परफार्मा भी भेजा गया है।

जिसके माध्यम से अभी तक बिल नहीं चुकाने वाले उपभोक्ताओं को आगाह करने को कहा गया है। बताया जा रहा है की बिजली बोर्ड के प्रबंध निदेशक

आरके शर्मा ने बताया कि सरकार ने लॉकडाउन अवधि के दौरान सभी श्रेणियों के उपभोक्ताओं को कई तरह की रियायतें दी हैं।

ऐसे उपभोक्ताओं के अभी कनेक्शन काटे नहीं जा रहे

जानकारी के अनुसार इसके बावजूद कई उपभोक्ताओं ने अभी तक बिजली बिल जमा नहीं करवाए हैं। ऐसे उपभोक्ताओं के अभी कनेक्शन काटे नहीं जा रहे हैं। मगर बिजली बोर्ड ने पहले चरण में चेतावनी पत्र दिए जाएंगे।

इसी के साथ बताया जा रहा है की इसके बाद भी अगर बिल जमा नहीं करवाए गए तो आगामी कार्रवाई की जाएगी।

तथा प्रदेश में जिन लोगो इस के बाद भी यदि भुगतान नहीं किया तो उन के बिजली के कनेक्शन काट दिए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *