हिमाचल पथ परिवहन निगम बसों की ऑक्यूपेंसी बढ़ कर 27 फीसदी से पार, निजी बसों के पहिए थमे रहे

हिमाचल प्रदेश में पथ परिवहन निगम की बसों में ऑक्यूपेंसी में फिर से इजाफा हुआ है। प्राप्त जानकारी एक अनुसार निगम बसों की ऑक्यूपेंसी बढ़ कर 27 फीसदी से पार हो गई है। जिस से परिवहन विभाग को राहत मिली है। इसी के साथ शनिवार को निगम की बसों में आक्यूपेंसी 25 फीसदी के करीब थी। मगर रविवार को इसमें इजाफा रिकार्ड किया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार को निगम प्रबंधन द्वारा हिमाचल प्रदेश में 600 रूटों पर बस सेवा प्रदान की गई। इसी के साथ शाम 04 बजे तक निगम 516 रूटों पर बसों का संचालन कर चुका था। जबकि 84 बसें 04 बजे के बाद विभिन्न रूटों पर संचालन किया गया।

निजी बस ऑपरेटर्ज ने बसों का संचालन बंद कर दिया

जानकारी के अनुसार बसों में ऑक्यूपेंसी बढ़ने से निगम रूटों पर बसों की संख्या बढ़ानी शुरू कर दी है। हिमचाल प्रदेश में निजी बस ऑपरेटर्ज ने बसों का संचालन बंद कर दिया है। इसी के साथ रविवार को प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में निजी बसों के पहिए थमे रहे। ऐसे में परिवहन का सारा दारोमदार हिमाचल परिवहन निगम पर आ गया है। इसके चलते निगम बसों में रोजाना ऑक्यूपेंसी में बढ़ोतरी हो रही है।

एचआरटीसी के एमडी यूनुस ने दी जानकारी

जानकारी के अनुसार बता दें कि पथ परिवहन निगम द्वारा हिमाचल में बसों को क्लब कर चलाया जा रहा है। जिन रूटों पर सवारियां नहीं हैं, उन रूटों पर बसें नहीं भेजी जा रही है। एचआरटीसी के एमडी यूनुस ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में 600 रूटों पर बस सेवा प्रदान की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *