हिमाचल में हुए पीपीई किट्स घोटाले की विजिलेंस जांच के दौरान बिलासपुर के जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यरत डॉ. प्रकाश दड़ोच का तबादला किया गया रद्द

हिमाचल प्रदेश में हुए पीपीई किट्स घोटाले की विजिलेंस जांच के दौरान प्रदेश के जिला बिलासपुर में बतौर जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यरत डॉ. प्रकाश दड़ोच का तबादला सार्वजनिक हितों का हवाला देते हुए निदेशालय ने शुक्रवार को रद्द कर दिया है। प्राप्त जानकारी के

अनुसार हिमाचल के राज्यपाल की अधिसूचना के अनुसार डॉ. दड़ोच अब जिला बिलासपुर में ही अपनी आगामी सेवाएं देंगे। इसी के साथ स्वास्थ्य ने कोरोना वायरस को इस तबादले के रद्द करने की वजह बताया है। जिस बजह से उनका तबादला रद्द कर दिया गया है।

स्वास्थ्य विभाग ने 18 मई को डॉ. प्रकाश दड़ोच के तबादले के आदेश जारी किए थे

जानकारी के अनुसार स्वास्थ्य विभाग ने 18 मई को डॉ. प्रकाश दड़ोच के तबादले के आदेश जारी किए थे। इसी दौरान डॉ. घनश्याम को जिला बिलासपुर में सीएमओ पद पर नियुक्त किया था। लेकिन तबादले के आदेशों के तुरंत बाद डॉ. दड़ोच हाईकोर्ट चले गए। साथ ही विभाग के

आलाधिकारियों के अनुसार उन्हें कोर्ट से स्टे मिल गया था। इसी दौरान हिमाचल के राज्यपाल ने उक्त अधिकारी के तबादले को रद्द कर उन्हें बिलासपुर में ही बतौर मुख्य चिकित्सा अधिकारी बनाए रखने के आदेश जारी कर दिए।

कोरोना काल को देखते हुए सीएमओ का तबादला निरस्त किया गया

हिमाचल प्रदेश में फैले कोरोना काल को देखते हुए सीएमओ का तबादला निरस्त किया गया है। वहीं हाईकोर्ट शिमला से भी तबादले पर स्टे मिल चुका था। बताया जा रहा है की कोरोना काल में स्वास्थ्य विभाग से जुड़ा हुआ कोई भी कार्य प्रभावित न हो इसके लिए उक्त अधिकारी

जिला में इस पद पर अपनी सेवाएं जारी रखेंगे। समस्त अधिकारियो को इस कोरोना की संकट खड़ी में अपनी सेवाएं उसी स्थान में देने के निर्देश है। जंहा अभी वो कार्यरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *