लद्दाख में हुए चीन भारत विवाद में ऊना का एक जवान घायल, लेह-लद्दाख के अस्पताल में चल रहा उपचार

हाल ही में भारत चीन के लद्दाख की गलवान घाटी में हुए विवाद में हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना का एक जवान घायल बताया जा रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस जवान का इलाज लेह-लद्दाख के अस्पताल में चल रहा है, लेकिन अधिकारिक पुष्टि न होने के चलते परिवार का हाल बेहाल है।बताया जा रहा है की माता-पिता के अलावा जवान की पत्नी भावुक है। इसी के साथ जवान के परिजनों की मानें तो उन्हें किसी से बेटे के गंभीर घायल होने की सूचना मिली है।

उपायुक्त ऊना ने कहा कि अभी तक ऐसी कोई अधिकारिक सूचना नहीं मिली

लेकिन सेना द्वारा परिवार को कोई जानकारी नहीं दी गई। वहीं उपायुक्त ऊना ने कहा कि अभी तक ऐसी कोई अधिकारिक सूचना नहीं है। फिलहाल प्रशासन सेना के उच्चाधिकारियों से जानकारी जुटा रहा है। तथा जल्द ही पुख्ता जानकारी जवान के परिजनों को दी जायेगी।

गलवान विवाद में सर्वजीत सिंह के तीन साथी शहीद हो गए

ऊना शहर के वार्ड नंबर एक का सर्वजीत सिंह भारतीय सेना की पंजाब रेजीमेंट में तैनात है। जो कि भारत-चीन बार्डर पर सीमा की रक्षा कर रहा हैं। जानकरी के अनुसार सर्वजीत सिंह की शादी दो वर्ष पूर्व हुई थी और करीब डेढ़ वर्ष से घर नहीं लौटा हैं। इसी के साथ पिता सतनाम सिंह का कहना है कि गलवान विवाद में सर्वजीत सिंह के तीन साथी शहीद हो गए, जबकि उनका बेटा जख्मी है और लेह-लद्दाख अस्पताल में उपचारधीन है।

जिसकी जानकारी परिवार को कहीं और से प्राप्त हुई है, लेकिन सेना द्वारा उन्हें बेटे के बारे अभी तक कोई जानकारी नहीं दी गई है। उन्हें सिर्फ इतना ही पता चल पाया कि बेटा गलवान में हुए विवाद में काफी जख्मी हो चुका है और हाथों की अंगुलियां भी फ्रैक्चर हो गई हैं।

इसको लेकर सेना के अधिकारियों से बात की जा रही है

जानकारी के अनुसार उपायुक्त ऊना संदीप कुमार ने बताया कि उन्हें जवान के पिता का फोन आया था। तथा उन्होंने बेटे के गलवान में हुए विवाद में जख्मी होने की बात कही है। इसको लेकर सेना के अधिकारियों से बात की जा रही है। जैसे ही कोई सूचना मिलती है। वैसे ही जवान

के परिजनों को सूचित कर दिया जाएगा। इसी के साथ एसडीएम ऊना डा. सुरेश जस्वाल भी सैनिक के घर जाकर परिजनों से मिले है तथा उन्हें आस्वाशन दियाहै की उनके बेटे की खबर जल्द ही उन्हें मिल जायेगी।

Una injured in China-India dispute in Ladakh; treatment underway in Leh-Ladakh hospital

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *