प्रदेश में जुलाई और अगस्त में भी बंद रहेंगे निजी होटल और रेस्टोरेंट, होटल संघों के साथ बैठक कर लिया गया फैसला

हिमाचल प्रदेश में फैले कोरोना के कारण लगे क्लफ्यू की बजह से प्रदेश में सभी होटल और रेस्टोरेंट को बंद किया गया है। प्राप्त जानकरी के अनुसार हिमाचल में जुलाई और अगस्त में भी निजी होटल और रेस्टोरेंट बंद रहेंगे। इसी एक साथ टूरिज्म इंडस्ट्री स्टेक होल्डर्स एसोसिएशन ने सितंबर मध्य तक होटल-रेस्टोरेंट खोलने का फैसला लिया है।

प्रदेश सरकारी गाइडलाइन का पालन करने को होटल कारोबारियों ने अतिरिक्त समय की मांग की है। इसी के साथ अगले सप्ताह से हिमाचल प्रदेश में होटल कर्मियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम भी शुरू किया जाएगा। उसी के बाद प्रदेश में होटल को खोला जाएगा।

पर्यटन उद्योग हित धारकों के सभी सदस्यों ने सितंबर मध्य तक होटल और रेस्तरां खोलने का फैसला किया

जानकारी के अनुसार एसोसिएशन अध्यक्ष मोहिंद्र सेठ ने प्रेस विज्ञप्ति के जरिये बताया कि पर्यटन उद्योग हित धारकों के सभी सदस्यों ने सितंबर मध्य तक होटल और रेस्तरां खोलने का फैसला किया है। अभी प्रदेश में कोरोना के कारणइन्हे खोलन सही नहीं होगा इसी लिए प्रदेश सरकार की गाइडलाइन वितरित कर दी गयी है। होटलों में मौजूदा कर्मचारियों को पहले चरण में प्रशिक्षित किया जाएगा।

उसी के बाद इन को शुरू किया जाएगा। सर्विस करते समय और हाउसकीपिंग के समय सावधानियों को बरतने के टिप्स इस ट्रेनिंग का हिस्सा होंगे। इसी के साथ प्रदेश में चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार अगस्त तक कोविड 19 के मामले चरम पर जाएंगे।

होटल संघों के साथ बैठक कर यह फैसला लिया गया

जानकारी के अनुसार ऐसे में होटल और रेस्टोरेंट बंद रखने का फैसला लिया है। जानकारी के अनुसार मोहिंद्र सेठ ने बताया कि आगामी ऑफ सीजन ध्यान में रखते हुए हमने अपनी इकाइयों को पोस्ट कोविड खोलने से पहले अपने प्रतिष्ठानों और कर्मचारियों को तैयार करने का निर्णय लिया है।

इसी के साथ जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि प्रदेश के लोकप्रिय पर्टयक स्थान मनाली, धर्मशाला, चामुंडा, कसौली, शिमला, किन्नौर के होटल संघों के साथ बैठक कर यह फैसला लिया गया है। तथा फ़िलहाल अभी प्रदेश में होटल बंद ही रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *