प्रदेश में कोरोना संकट से जूझ रही जनता तो दूसरी तरफ 3,000 रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा नायब तहसीलदार

हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा में नायब तहसीलदार को विजिलेंस ने 3000 रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार विजिलेंस की टीम ने शिकायत के आधार पर यह कार्रवाई की है। बताया जा रहा है की विजिलेंस को उप तहसील भवारना के हल्द्रा गांव के एक व्यक्ति ने शिकायत दी थी कि वह गांव के एक अन्य व्यक्ति के साथ तहसील कार्यालय गया था।

राजस्व रिकॉर्ड में अपना नाम ठीक करवाने आया था शिकायतकर्ता

इसी दौरान शिकायतकर्ता को राजस्व रिकॉर्ड में अपना नाम ठीक करवाना था और गांव का दूसरा व्यक्ति अपने पिता का नाम सही करवाना चाहता था। इसी कार्य के लिए नायब तहसीलदार भवारना ने मौके पर प्रत्येक से 1000 रुपये लिए थे। जिस की सुचना विजिलेंस की टीम को दी गयी।

प्रत्येक से 1,500 रुपये और देने की मांग की थी और 18 जून को उक्त राशि लेकर आने को कहा

जानकारी के अनुसार यही नहीं बल्कि प्रत्येक से 1,500 रुपये और देने की मांग की थी और 18 जून को उक्त राशि लेकर आने को कहा। विजिलेंस ने इस शिकायत पर धर्मशाला में एफआईआर दर्ज की और डीएसपी बलवीर सिंह जसवाल के नेतृत्व में टीम ने नायब तहसीलदार को रंगे हाथ पकड़ने के लिए जाल बिछाया। तथा इस नायब तहसीलदार को मौके पर पकड़ने के लिए जाल बिछाया इस दौरान नायब तहसीलदार को अपने कार्यालय में 3000 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया।

भवारना के नायब तहसीलदार को तीन हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा गया

इसी दौरान डीएसपी विजिलेंस बलवीर सिंह जसवाल ने कहा कि भवारना के नायब तहसीलदार को तीन हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा गया है। इस आरोपी के खिलाफ उनके पास शिकायत आई थी। जिस दौरान यह पूरी करवाई की गयी तथा नायब तहसीलदार को हिरासत में ले के उस पर करवाई की जा रही है।

In the state, the people struggling with the Corona crisis, caught red handed taking a bribe of Rs 3,000 on the other hand, Naib Tehsildar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *