झूले की रस्सी बनी मौत का फंदा, सिरमौर के उपमंडल राजगढ़ के दीदग में झूले की रस्सी में फसकर 14 वर्षीय मासूम बच्ची की मौत

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के उपमंडल राजगढ़ के दीदग में सोमवार शाम एक दर्दनाक हादसा हो गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार हंसते खेलते 14 साल की एक मासूम लड़की की मौत हो गई।

बताया जा रहा है की मौत का कारण झूले की रस्सी बन गई जो जिस में यह बच्ची खेल रही थी। झूलते समय रसी लड़की के गले में फंस गई। इससे लड़की का दम घुट गया।

यहां तक की परिजनों ने गंभीर हालत में उसे राजगढ़ सिविल अस्पताल भी पहुंचाया।

अस्पताल में चिकित्सकों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया

लेकिन अस्पताल में चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार दीदग निवासी जगवीर की 14 वर्षीय बेटी महक सोमवार को छोटे बच्चों के साथ घर पर ही रस्सी का झूला लगाकर खेल रही थी। की अचानक यह हादसा हुआ।

रस्सी के झूले में बुरी तरह फंसने से हुई मासूम की मौत

बताया जा रहा है की इस दौरान उसके माता-पिता घर के समीप ही खेतों में काम कर रहे थे। शाम करीब 04 बजे झूला झूलते समय लड़की का झूले से अचानक पैर फिसल गया और वह रस्सी के झूले में बुरी तरह फंस गई।

जानकारी के अनुसार महक को झूले की रस्सी में फंसता देख दूसरे छोटे बच्चे उसकी कोई मदद नहीं कर पाए। जब बच्चे चिल्लाए तो एक पड़ोसी ने उसे फंदा बने झूले की जकड़ से निकाला। इसी दौरान

इसके बाद लड़की के परिजन उसे गंभीर हालत में उपचार के लिए सिविल अस्पताल राजगढ़ ले गए, जहां उसे मृत घोषित किया गया। मृतक लड़की दीदग स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ती थी।

लकड़ी के घर में शोक की लहर दौड़ गई

इस हादसे के बाद क्षेत्र में और लकड़ी के घर में शोक की लहर दौड़ गई है। उधर, डीएसपी भीष्म ठाकुर ने इस दुर्घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जानकारी देते हुए उन्होंने बताया की जल्द ही शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंपा जाएगा। लड़की की इस दुखद मृत्यु से सभी परिजनो में मातम का माहौल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *