हिमाचल में मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों से फसल मार्केट में सेब सीजन ने गति पकड़ ली, किसानो और बागवानों को बेहद राहत

हिमाचल प्रदेश के मध्यम ऊंचाई वाले क्षेत्रों से फसल मार्केट में पहुंचने से हिमचाल में सेब सीजन ने गति पकड़ ली है। प्राप्त जानकारी के अनुसार फल मंडियों को रोजाना हजारों की संख्या में सेब की पेटियां पहुंच रही हैं।

इसी के साथ बताया जा रहा है की इसके चलते फल मंडियों में चहल-पहल बढ़ गई है। साथ ही हिमचाल प्रदेश के सेब उत्पादक क्षेत्रों से 15 लाख से अधिक सेब बॉक्स देश की अलग-अलग मंडियों में सेब पहुंच चुके हैं।

बागबानी विभाग के अनुसार अब तक 15 लाख 83 हजार सेब बॉक्स मडिय़ों में पहुंच चुके है। जिस से प्रदेश के बागवानो को बहुत ही राहत मिली है।

मंडी मध्यस्थता योजना के अंतर्गत सेब के प्रापण के लिए 195 एकत्रिकरण केंद्र खोले

हिमाचल प्रदेश सरकार ने अभी तक मंडी मध्यस्थता योजना के अंतर्गत सेब के प्रापण के लिए 195 एकत्रिकरण केंद्र खोले हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार इनमें 106 केंद्र एचपीएमसी और 89 हिमफेड द्वारा खोले गए हैं।

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी मध्यस्थता योजना के अंतर्गत अभी तक एचपीएमसी और हिमफेड द्वारा सेब का प्रापण किया जा रहा है।

मौजूदा सेब सीजन में मंडियों में अभी भी रॉयल सेब 400 से 2800 रुपए तक बिक रहा है। जिस से हिमाचल प्रदेश के किसानो और बागवानों को बहुत राहत मिली है।

प्रदेश में स्पर वैराइटी का सेब 400 से 3200 रुपए तक बिक रहा

जबकि हिमाचल प्रदेश में स्पर वैराइटी का सेब 400 से 3200 रुपए तक बिक रहा है। मौजूदा सेब सीजन के दौरान बागबानों को सेब के रिकॉर्डतोड़ दाम मिले थे।

इसी के साथ हिमाचल प्रदेश में सीजन के रफ्तार पकड़ते ही दामों में हल्की गिरावट आई थी। मगर मौजूदा समय में भी बागबानों को फसल के अच्छे दाम मिल रहे हैं। जिस बजह से हिमाचल प्रदेश के किसानो को बहुत ही राहत मिली है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *