सेब सीजन के दौरान बाहरी राज्यों से आ रहे मजदूरों के साथ बढ़ रहा हिमाचल प्रदेश में कोरोना का केहर

हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे है। जिस बजह से संक्रमण का खतरा भी बढ़ता नजर आ रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ऐसे में आने वाले दिनों के लिए लोगों को और सतर्क होने की आवश्यकता है।

साथ ही इस वायरस से बचने के लिए बनाये गए सरकारी नियमो का पालन करना होगा। कोरोना वायरस के मामले बढ़ने का एक मुख्य कारण सेब सीजन के लिए बाहरी राज्यों से मजदूरों का आना है।

हिमाचल प्रदेश में हर साल बाहरी राज्यों से बहुत से मजदूरी कार्य करने के लिए आते है। जबकि बीबीएन में भी फैक्टरियों में बाहरी राज्यों से लेबर आ रही है।

90 प्रतिशत कोरोना पॉजिटिव मामले बाहरी राज्यों से आने वाले लोगो के

एक कारण यह भी है, स्वास्थ्य विभाग की मानें तो अभी तक 90 प्रतिशत कोरोना पॉजिटिव मामले बाहरी राज्यों से आने वाले लोग हैं। जिन में से ज्यादा तर दिल्ली, मुंबई, के है।

हिमाचल प्रदेश में सेब सीजन अक्तूबर माह तक चलता है। ऐसे में यहां पर बाहरी राज्यों से श्रमिकों का आना जारी रहेगा।

इन मजदूरों का हिमाचल सेब सीजन में बहुत बड़ा योगदान रहता है।

कुल्लू में 69 लोग एक साथ ही कोरोना पॉजिटिव आए

ऐसा ही रहा तो इन बाहरी राज्यों से आने वालो मजदूरों के साथ कोरोना संक्रमण का खतरा भी हिमाचल प्रदेश में बढ़ सकता है। जिससे यहां कोरोना वायरस के मामलों में और बढ़ोतरी होगी।

इसका उदाहरण यह है कि हिमाचल प्रदेश के जिला कुल्लू में 69 लोग एक साथ ही कोरोना पॉजिटिव आए है। जिस बजह से प्रदेश मकई जनता में इस वायरस को लेकर डर और ज्यादा फैलता नजर आ रहा है।

ये सभी बाहरी राज्यों से यहां पर सेब के तुड़ान और इसकी ढुलाई के लिए आए हैं। इसके अलावा सोलन जिला के बीबीएन में भी जो कोरोना का सैलाब आया है। उस से सभी परेशान है।

यह सभी संक्रमितो को क्वारंटाइन किया गया था

हिमाचल प्रदेश में कामगार ही सबसे ज्यादा कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। जबकि बिलासपुर की एम्स साइट में भी हिमाचल से बाहरी राज्यों से आए कई मजदूर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

बताया जा रहा है की यह सभी संक्रमितो को क्वारंटाइन किया गया था। लेकिन फिर भी आने वाले समय में लोगों को इस वायरस से जंग जितने के लिए एहतियात बरतनी होगी। जिस से वो खुद और अपने परिवार को सुरक्षित रख सकते है

हिमाचल आने वाले लोगो को 07 दिन तक क्वारंटाइन रहना होगा

प्राप्त जानकारी इसके अलावा जो मजदुर हिमाचल प्रदेश में मजदूरी करने के लिए आ रहे है, सेब बागबानों को उन के सभी कामगारों की जानकारी सरकार को देनी होगी।

जो भी कामगार बाहर से हिमाचल प्रदेश मजदूरी या किसी अन्य कारण से आता है। उसे 07 दिन तक क्वारंटाइन रहना होगा। बताया जा रहा है की यह जिम्मेदारी मजदूरों को लाने वालों की होगी।

ऐसे में अगर हिमाचल प्रदेश सरकार की इस हिदायत का पालन किया जाता है। तो कोरोना वायरस को काफी हद तक रोका जा सकता है।

मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने दी जानकारी

इस बारे में अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने कहा कि हिमचाल प्रदेश में ज्यादातर लोग वे ही पॉजिटिव हैं। जो बाहर से हिमाचल प्रदेश आ रहे हैं।

उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि उन्हें क्वारंटीन किया जा रहा है। इसी के साथ उन्होंने कहा की सरकार कोरोना से बाचने के लिए विभिन्न महत्वपूर्ण नियमो का पालन कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *