महामहिम दलाईलामा की सुरक्षा को और ज्यादा कड़ा किया जाएगा, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने दी जानकारी

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जानकारी देते हुए कहा है कि महामहिम दलाईलामा की सुरक्षा को और ज्यादा कड़ा किया जाएगा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार इसमें किसी भी तरह की ढील नहीं हो सकती। बताया जा रहा है की जिस तरह का प्रोटोकाल बना हुआ है उसके मुताबिक सरकार सुरक्षा मुहैया करवा रही है, मगर हाल ही में जो मामला

सामने आया है, उस को मद्देनजर रखते हुए महामहिम दलाईलामा की सुरक्षा को और अधिक बढ़ाने की जरूरत है। इस पर निर्देश जारी कर दिए गए है।

पिछले दिनों दलाईलामा की जासूसी से जुड़ा बड़ा मामला सामने आया

मंगलवार को पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में सीएम ने कहा कि पिछले दिनों दलाईलामा की जासूसी से जुड़ा बड़ा मामला सामने आया है। जिसमें आईटी कानून के तहत केंद्रीय मंत्रालय ने गिरफ्तारी भी की है। साथ ही पुरे मामले की जांच की जा रही है।

इस संदर्भ में अभी तक हिमाचल प्रदेश सरकार या सुरक्षा एजेंसियों को कोई विस्तृत जानकारी नहीं मिली

प्रपत्र जानकारी के अनुसार इस संदर्भ में अभी तक हिमाचल प्रदेश सरकार या सुरक्षा एजेंसियों को कोई विस्तृत जानकारी नहीं मिली है। इसी के साथ बताया जा रहा है की उनसे विस्तृत ब्यौरा मांगा गया है। अभी तक यह पता नहीं चल पाया है

कि जासूसी करने वालों का संबंध हिमाचल प्रदेश से रहा है या फिर नहीं, क्योंकि कुछ भी साफ नहीं किया गया है। इससे पहले भी एक मामला सामने आया था।

जिसमें व्यक्ति ज्यूडिशियल कस्टडी में है। हिमाचल प्रदेश के सीएम ने कहा कि दलाईलामा की सुरक्षा बेहद जरूरी है। इस लिए सरकार इस पर विशेष ध्यान रखा जा रहा है। इस मामले की बजह से सख्त निर्देश दिए गए हैं। बताया जा रहा है की सुरक्षा में जिसमें किसी तरह की कोई चूक नहीं हो सकती।

जिसमें 15 बैठकों का ही आयोजन हुआ था

इसी के साथ विधानसभा के मानसून सत्र के सवाल पर सीएम ने कहा कि मानसून सत्र निर्धारित कर दिया गया है। बताया जा रहा है की इसकी मांग भी हो रही थी और वैसे भी नियमों में है कि 06 महीने के अंतराल में सत्र बुलाया जाना चाहिए। इसी के साथ मानसून सत्र में बैठकें ज्यादा होंगी।

क्योंकि बजट सत्र में पूरी बैठकें नहीं हो सकी थीं। इसी लिए बजट सत्र 23 मार्च तक चला था। जिसमें 15 बैठकों का ही आयोजन हो सका था। इसलिए इस बार बढ़ाकर 10 बैठकें की गई हैं। जिस में विभिन्न महत्वपूर्ण विचारो पर चर्चा की जा रही है।

कोविड से जुड़े मामले के अलावा हिमाचल प्रदेश हित के दूसरे मुद्दों को सामने लाया जाएगा

प्राप्त जानकारी के अनुसार 06 बैठकें ही मानसून सत्र में हो पाती थीं। इसी के साथ सीएम ने कहा कि मानसून सत्र में कोविड से जुड़े मामले के अलावा हिमाचल प्रदेश हित के दूसरे मुद्दों को सामने लाया जाएगा। इसी के साथ जनता को जो

जानकारियां दी जानी चाहिएं। वे मानसूत्र सत्र के माध्यम से दी जाएगी। जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा कि विपक्ष के सवालों का माकूल जवाब दिया जाएगा।

सीएम सिक्योरिटी में 13 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए

जो लगातार बेबुनियाद आरोप लगाकर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है। हिमाचल प्रदेश हित में सरकार ने क्या फैसले लिए हैं।

सीएम सिक्योरिटी में 13 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने पर सीएम ने कहा कि अब पहले से ज्यादा एहतियात बरतने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *