मंडी के एक परिवार पर एक साथ दुखो का पहाड़ गिरा, करसोग में करंट लगने से बाप बेटे की मौत

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी के करसोग से लगभग 35 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत झूंगी के गांव बलाऊट को सोमवार में एक बड़ा हादसा हो गया, प्राप्त जानकारी के अनुसार एक पिता और पुत्र की चिता एक साथ पंचतत्व में विलीन हुई। बताया जा रहा है की इन दोनों की मौत को लेकर सैकड़ों गांववासियों की आंखें नम हो गयी।

पिता और पुत्र को एक साथ करंट का शिकार होना पड़ा

जानकारी के अनुसार इन दोनों पिता और पुत्र को एक साथ करंट का शिकार होना पड़ा है। जिस बजह से इन दोनों की मौत हो गयी। करंट का शिकार होने वाले पिता-पुत्र में नौता राम की उम्र लगभग 40 वर्ष तो पुत्र घनश्याम की आयु अभी मात्र 17 वर्ष थी।

पानी में करंट लगने से हुई मौत

इन दोनों की मौत का कारण पानी में छुपा हुआ करंट था। जैसे ही इन्होने पानी को हाथ लगाया वैसे ही दोनों को करंट का इतनी जोर से झटका लगा की दोनों की मौत हो गयी। यह घटना कैसे हुई इस की जांच की जा रही है। यह मामला पुलिस की छानबीन में पूरी तरह से सामने आएगा।

परिजनो में शोक की लहर

इस मामले की पूरी जांच में सुंदरनगर पुलिस जुट चुकी है। करंट लगते ही दोनों पिता-पुत्र को दर्जनों ग्रामीण लोगों द्वारा करसोग हॉस्पिटल पहुंचाया गया। मगर अस्पताल में चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया और देर शाम

पोस्टमार्टम प्रक्रिया अमल में लाकर शव परिजनों के हवाले कर दिए। इस घटना के बाद परिजनों में शोक की लहर दौड़ गयी। एक परिवार के दो सदस्यों की मौत के कारण गांव वाले भी बेहद दुखी है।

A mountain of grief fell on a family in Mandi, father’s death due to electric shock in Karsog

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *