एचपीएस अधिकारी का किया तबादला, निकला कोरोना संक्रमित, तीन माह पहले ही अधिकारी की जंगलबैरी में बतौर सीओ नियुक्ति हुई थी

हिमाचल प्रदेश में अपनी ड्यूटी देते देते हिमाचल के एक एचपीएस अधिकारी सीओ चतुर्थ वाहिनी जंगलबैरी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार तीन माह पहले ही अधिकारी की जंगलबैरी में बतौर सीओ नियुक्ति हुई थी।

बताया जा रहा है की एचपीएस अधिकारी ने मुख्यमंत्री के ही गृह जिले से हैं। इसी के साथ पांवटा में ही ड्यूटी के दौरान कोरोना संक्रमित हो गए।

जानकारी के अनुसार अब इलाज के दौरान ही हिमाचल सरकार ने उन्हें स्थानांतरित कर दिया है।

एचपीएस अधिकारी वीरेंद्र ठाकुर पदोन्नत होकर इस वर्ष जून माह में ही चतुर्थ वाहिनी जंगलबैरी में बतौर कमांडेंट नियुक्त हुए थे

प्राप्त जानकारी के अनुसार उल्लेखनीय है कि एचपीएस अधिकारी वीरेंद्र ठाकुर पदोन्नत होकर इस वर्ष जून माह में ही चतुर्थ वाहिनी जंगलबैरी में बतौर कमांडेंट नियुक्त हुए थे।

बताया जा रहा है की अपनी ड्यूटी के प्रति समर्पण भावना को देखते हुए डीजीपी ने सीओ को मादक द्रव्य पदार्थों की तस्करी पर अंकुश लगाने का कार्य सौंपा था।

अपनी ड्यूटी को अंजाम देने के लिए सीओ चतुर्थ वाहिनी जंगलबैरी 3 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर पहुंचे थे।

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के नाहन में कोरोना वायरस के काफी मामले सामने आ चुके थे। बताया जा रहा है की टीम ने बेहतर कार्य करते हुए पांवटा और कालाआंब में नशीले कैप्सूल, चरस समेत मादक द्रव्यों के मामले पकड़ना शुरू कर दिए।

बताया जा रहा है की पांवटा में 6 अगस्त से कोरोना से तेज रफ्तार पकड़ ली थी। इस बीच सीओ वीरेंद्र ठाकुर उनकी टीम के एक निरीक्षक, वाहन चालक समेत टीम में शामिल 7 लोगों के साथ कोरोना संक्रमित हो गए।

इसी के साथ इन के सम्पर्क में आये सभी व्यक्तियों की जांच की जा रही है। इन दिनों सीओ और टीम के सभी संक्रमित कोविड-19 केयर सेंटर पांवटा बातामंडी में उपचारित हैं।

दो बार कोरोना फालोअप रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है

सीओ की दो बार कोरोना फालोअप रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। ऐसे में जब अधिकारी और टीम के संक्रमित सदस्यों को सरकार व विभाग से प्रोत्साहन की जरूरत थी

सरकार ने अधिकारी को 3 माह के भीतर ही सीओ चतुर्थ वाहिनी जंगलबैरी के पद से स्थानांतरण कर कमांडेंट होमगार्ड कुल्लू तैनात कर दिया है। वीरेंद्र ठाकुर ने बताया कि उन्हें स्थानांतरण की सूचना मिल गई है।

हिमचाल प्रदेश सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हो रही है

सिरमौर की पांवटा विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक चौधरी किरनेश जंग का कहना है कि हिमचाल प्रदेश सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हो रही है।

इसी के साथ चहेते आईपीएस को उनकी मनपसंद पदों पर तैनात करने के लिए सीएम के अपने ही गृह जिले से ताल्लुक रखने वाले एक काबिल और कर्मठ

एचपीएस अधिकारी का तबादला इसका ताजा उदाहरण है। साथ ही बढ़ते कोरोना के मामलो की बजह से भी सरकार फ़िलहाल कोई अहम फैसला नहीं ले पा रही है।

HPS officer transferred, turned out Coronachari, was appointed as soldier in jungleberry of officer three months ago

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *