हिमाचल प्रदेश में डिपोऔ में मिलने वाले नमक में आयोडीन की मात्रा कम है या ज्यादा जानिए पूरी कहानी, Iodine content in salt available in depots in Himachal Pradesh is less or know more full story

नमक में आयोडीन है या नहीं इस की जांच के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेशग के विभिन्न स्थानों से नमक के सैंपल जांच के लिए प्राप्त किये जा रहे है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश के लोगों को सरकारी राशन डिपो के माद्यम से दिया जा रहा है। जिस में राशन में दिए जाने वाले नमक में आयोडीन है या नहीं, इस पर सवाल खड़ा हो गया है।

प्रदेश सरकार पौष्टिक आहार देने के लिए प्रयास कर रही है।

जिसके चलते खाद्य पदार्थों में अलग से विटामिन की व्यवस्था की जा रही है। बताया जा रहा है की ऐसे में डिपो में मिलने वाले नमक में आयोडीन को लेकर कई सवाल उठे हैं। जानकारी के अनुसार बिलासपुर जिला में आशा वर्करों के माध्यम से इस नमक के सैंपल लिए गए है।

नेशनल हैल्थ मिशन की टेस्टिंग किट से की जा रही जांच

जिनकी नेशनल हैल्थ मिशन की टेस्टिंग किट से जांच की गई। इस जांच में वहां के नमक में आयोडीन की बहुत कम मात्रा में पाई गयी है।

इस पर यह सवाल उठ गया कि क्या खाद्य आपूर्ति महकमा हिमालचल प्रदेश के लोगों को कम आयोडीन वाला नमक दे रहा है।

जबकि शरीर में इस नमक के माध्यम से आयोडीन की खासी जरूरत रहती है। जिस से व्यक्ति स्वस्थ रहता है।

जिसके दावे सरकार भी करती आई है। की डिपो में दिया जाने वाला नमक पूरी तरह से पौष्टिक है।

हिमाचल प्रदेश में नमक को लेकर विवाद खड़ा

प्राप्त जानकारी के अनुसार ऐसे में इस नमक को लेकर विवाद खड़ा हो गया है, बताया जा रहा है की हैरानी की बात यह है कि जब इसी नमक के सैंपल लेकर खाद्य आपूर्ति विभाग के निदेशालय स्थित लैब में जांच की गई, तो न केवल इसमें प्रचुर मात्रा में आयोडीन प्राप्त हुआ बल्कि इस में आयोडीन की मात्रा भी बेहद कम थी।

नेशनल हैल्थ मिशन की टेस्ट किट की रिपोर्ट सही आंकड़े प्रस्तुत कर रहा है। या फिर निदेशालय की लैब से आई रिपोर्ट

ऐेसे में बात यह उठ रही है कि आखिर नेशनल हैल्थ मिशन की टेस्ट किट की रिपोर्ट सही आंकड़े प्रस्तुत कर रहा है। या फिर निदेशालय की लैब से आई रिपोर्ट।

इसे लेकर अब दोनों विभाग भिड़ रहे हैं और दोनों के अपने-अपने दावे इस संबंध में सामने आ रहे हैं। इसलिए तीसरे विकल्प को लेकर भी विचार चल रहा है।

बिलासपुर पहुंचे नमक में आयोडीन की मात्रा 15 पीपीएम यानी पार्ट्स पर मिलियन से कम थी

इसी के साथ प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जाता है कि टेस्टिंग किट में जो जांच हुई है, उसके मुताबिक बिलासपुर पहुंचे नमक में आयोडीन की मात्रा 15 पीपीएम यानी पार्ट्स पर मिलियन से कम थी।

जबकि निदेशालय में हुई जांच में नमक में आयोडीन की मात्रा 20 से 28 पीपीएम मिली है। अब यह जान पाना थोड़ा मुश्किल है की सही मात्रा कौन सी है।

इसे लेकर जरूर लोगों में भी आशंका रहेगी और तीसरे विकल्प के बाद जो रिपोर्ट आएगी, शायद उस पर विश्वास करना पड़े। फिलहाल तो मौजूदा दोनों

रिपोर्टों पर विश्वास नहीं किया जा सकता है। जिस बजह से आयोडीन की मात्रा को लेकर विवाद चल रहा है।

हिमाचल प्रदेश में डिपोऔ में मिलने वाले नमक में आयोडीन की मात्रा कम है या ज्यादा जानिए पूरी कहानी, Iodine content in salt available in depots in Himachal Pradesh is less or know more full story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *