चीन-तिब्बत सीमा के साथ लगते बॉर्डर एरिया में कनेक्टिविटी में सुधार करना सरकार की प्राथमिकता CM जयराम ठाकुर

हिमाचल प्रदेश में फैली कोरोना महामारी के बीच कांगड़ा दौरे के दौरान गुरुवार को धर्मशाला पहुंचे प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि चीन-तिब्बत सीमा के साथ लगते बॉर्डर एरिया में कनेक्टिविटी में सुधार करना सरकार की प्राथमिकता है।

इसी के साथ उन्होंने कहा कि सुरक्षा और सामरिक दृष्टि से महत्त्वपूर्ण रोहतांग सुरंग का उद्घाटन आगामी सितंबर माह के अंतिम सप्ताह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा।

3,200 करोड़ से बनकर तैयार हो रही 09 किलोमीटर की यह सुरंग

इसी के साथ उन्होंने कहा की 3,200 करोड़ से बनकर तैयार हो रही 09 किलोमीटर की यह सुरंग चीन के अधिकृत क्षेत्र तिब्बत की सीमा तक पहुंचने में सेना के लिए एक सुगम और महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाएगी, इस सुरंग से भारतीय सेना को बहुत से लाभ मिल पाएंगे।

05 आईपीएस अधिकारियों का दल किया रवाना

प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के किन्नौर और लाहुल-स्पीति जिलों के साथ तिब्बत की सीमाएं लगती हैं।

इसी के साथ उन्होंने कहा की लेह के पास सीमा में भारत और चीनी सेना के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद सभी सीमा क्षेत्रों को अलर्ट किया गया है।

केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के चलते हिमाचल प्रदेश सरकार ने भी 05 आईपीएस अधिकारियों का दल यहां के लिए रवाना किया था।

इस दल ने इन क्षेत्रों में रह रहे लोगों से मिलकर वहां की हर तरह की गतिविधियों की रिपोर्ट बनाकर केंद्र सरकार को भेजी है साथ ही उन्होंने स्थानीय लोगो से भी बहुत सी महत्वपूर्ण जानकरी प्राप्त कर के सरकार को दी है।

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सीमावर्ती क्षेत्रों में रह रहे लोगों के पलायन की खबरों को आधारहीन बताते हुए कहा कि ऐसा कुछ नही है जैसा बताया जा रहा है।

इन क्षेत्रों में अधिकतर आईटीबीपी के जवान भी तैनात

उन्होंने जनता को बताया की वहां के लोग बिना किसी डर के अपने अपने क्षेत्रो में रह रहे हैं। वे देश भक्त लोग हैं तथा देश के लिए कुछ भी करने के लिए सदैव तैयार हैं।

इसी के साथ उन्होंने कहा की जानकारी की अनुसार उन लोगों का कहना है कि वे देश के काम आएं, यह उनका सौभाग्य है।

उनके विकास के कुछ मुद्दे हैं, उन पर बातचीत चल रही है। इन क्षेत्रों में अधिकतर आईटीबीपी के जवान भी तैनात है, जिसे सरकार हर तरह का सहयोग कर रही है।

पंचायत चुनावों को समय पर ही संपन्न करवाया जाएगा

हिमाचल सीमावर्ती क्षेत्रों में जहां तक हेलिपैड बनाने की बता है, उसे लेकर वहां तैनात आईटीबीपी अपने स्तर पर काम करेगी, तथा जल्द इस पर भी निर्णय ले लिया जाएगा।

हिमाचल प्रदेश सरकार उन्हें पूर्ण सहयोग देगी, इसी के साथ उन्होंने कहा की हिमाचल प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनावों को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि बेशक कोरोना का माहौल प्रदेश में अभी शांत नहीं हुआ है, लेकिन ये चुनाव समय पर ही संपन्न करवाए जाएंगे।

प्रदेश में कोरोना महामारी के चलते हिमाचल प्रदेश में बंद पड़े मंदिरों को खोलने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि फिलहाल 31 अगस्त तक मंदिरों को खोलने का कोई विचार नही किया गया है।

फिलहाल 31 अगस्त तक मंदिरों को खोलने का कोई विचार नही

देश सहित हिमाचल में कोरोना के मामले बड़े हैं। इसी लिए अभी इस पर कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है। प्रदेश में अभी बरसात का मौसम है, जिसमें संक्रमण व वायरल की सम्भावना और भी अधिक रहती है।

इसी दौरान उन्होंने कहा की जैसे ही हिमाचल में स्तिथि में सुधार आएगा मंदिरो को भी जल्द ही खोल दिया जाएगा।

चीन-तिब्बत सीमा के साथ लगते बॉर्डर एरिया में कनेक्टिविटी में सुधार करना सरकार की प्राथमिकता CM जयराम ठाकुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *