हिमाचल प्रदेश में दिसंबर और जनवरी में करवाए जाएंगे पंचायती चुनाव, ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने दी जानकारी

हिमाचल प्रदेश के ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने जानकारी देते हुए कहा है कि हिमाचल प्रदेश में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव तय समय पर ही करवाए जाएंगे। हिमाचल प्रदेश में नई पंचायतों के गठन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। साथ ही प्राप्त जानकारी के अनुसार और यह काम समय पर पूरा किया जाएगा।

इसी के साथ हिमाचल प्रदेश में पिछली बार दिसंबर और जनवरी में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव कराए गए थे। इसी के साथ 22 जनवरी को चुनाव प्रक्रिया पूरी कर ली गई थी।

पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों का 05 साल का कार्यकाल पूरा हो रहा

प्राप्त जानकारी के अनुसार 22 जनवरी, 2021 को पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों का 05 साल का कार्यकाल पूरा हो रहा है। इसी के साथ हिमाचल प्रदेश चुनाव आयोग को एक्ट के अनुसार 05 साल के भीतर चुनाव कराने जरूरी हैं।

इसी के साथ पंचायतों के गठन के लिए कम के कम कोई समय अवधि तय नहीं है। ऐसी स्थिति में सरकार नई पंचायतों का गठन करने में ज्यादा समय नहीं लगाना चाहती इस लिए यह निर्णय लिया गया है।

करीब 470 नई पंचायतों के प्रस्ताव सरकार के पास पहुंचे

जानकारी के अनुसार पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव कराने के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार ने कमर कस ली है। बताया जा रहा है की इसे ध्यान में रखते हुए नई पंचायतों के प्रस्ताव 16 अगस्त तक मांगे थे और करीब 470 नई पंचायतों के प्रस्ताव सरकार के पास पहुंच भी गए हैं। हिमाचल प्रदेश सरकार ने नई पंचायतों के लिए मापदंड

मापदंडो पर खरा उतरने वाले क्षेत्रों को नई पंचायत का दर्जा दिया जाएगा

भी शीघ्र तय करेगी और इस पर खरा उतरने वाले क्षेत्रों को नई पंचायत का दर्जा दिया जाएगा। इसी के साथ मापदंडों में क्षेत्र की जनसंख्या और मकानों की संख्या और पंचायत मुख्यालय से दूरी को आधार बनाया जा सकता है। इस लिए इस प्रिक्रिया को जल्द शुरू कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *