देश में फैले कोरोना महामारी के चलते, 06 महीने 12 दिन तक हिमाचल में फंसा रहा है एक एनआरआई परिवार,

हिमाचल प्रदेश में 06 महीने 12 दिन यहां रुकने के बाद नलिन शर्मा, पत्नी डिंपल शर्मा और बेटा अक्षत शर्मा वापस वापस चीन चले गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार नलिन शर्मा के भाई उमेश शर्मा ने दी।

बताया जा रहा है की 16 दिन की छुट्टियों पर घर आए एनआरआई परिवार का लॉकडाउन के चलते 06 महीने 12 दिन बाद वापस जाना संभव हो पाया है।

इसी के साथ बताया जा रहा है की धर्मपुर उपमंडल के तहत आने वाली ग्राम पंचायत सज्जाओपिपलू के कौहण गांव के निवासी एनआरआई नलिन शर्मा चीन की एक कंपनी के बतौर जनरल मैनेजर कार्यरत हैं।

15 वर्षों से यह परिवार चीन के जिग्यांसू राज्य के छांगजो शहर में रह रहा

साथ ही उनकी पत्नी डिंपल शर्मा और बेटा अक्षत भी उनके साथ चीन में ही रहते हैं। बताया जा रहा है की पत्नी डिंपल शर्मा भी वहां इसी कंपनी में काम करती हैं। इसी के साथ बीते 15 वर्षों से यह परिवार चीन के जिग्यांसू राज्य के छांगजो शहर में अपना जीवन व्यतीत कर रहा है।

वंदे भारत मिशन के तहत इस परिवार का वापस चीन जाना संभव हो पाया

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की हर वर्ष वार्षिक छुट्टियों के दौरान यह परिवार अपने पैतृक घर आता है। इस बार भी यह परिवार 24 जनवरी को यहां आया और 08 फरवरी को उन्होंने वापस चीन जाना था। लेकिन कोरोना वायरस ने इस परिवार की वापसी की राह रोक दी।

नलिन शर्मा बार-बार चीन वापस जाने का प्रयास करते रहे। लेकिन हवाई सेवाएं बाधित होने के कारण वह नहीं जा सके। अब वंदे भारत मिशन के तहत इस परिवार का वापस चीन जाना संभव हो पाया है।

05 अगस्त की रात को दिल्ली से चीन के लिए उड़ान भरी

बताया जा रहा है की 28 जुलाई को यह परिवार अपने गांव से दिल्ली के लिए रवाना हुआ और वहां पर सारी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद 05 अगस्त की रात को दिल्ली से चीन के लिए उड़ान भरी जिस से वो काफी समय बाद चीन के लिए रवाना हुए।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 06 अगस्त को यह परिवार चीन के ग्वांग्जो शहर पहुंच गया हैं। वहां पर उन्हें 14 दिनों के लिए होम क्वारंटाइन में रखा गया है। उसके बाद वे अपने कार्यस्थल पर जाकर कार्य शुरू करेंगे।

06 months and 12 days in the country, an NRI family is stuck in Himachal for 06 months and 12 days

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *