प्रदेश के ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी की गाड़ी का शिमला के रिज मैदान में हुआ चलान, नो एंट्री प्वाइंट पर एंट्री मारते हुए स्कैंडल प्वाइंट पर पहुंची गाडी

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के रिज में वाहनों के लिए पूरी तरह से प्रतिबंधित होते हुए भी सीटीओ पहुंची ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी की गाड़ी रोककर 1500 का चालान काटा गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार यह मामला गुरूवार दोपहर बाद करीब ढाई बजे का है। बताया जा रहा है की आईजीएमसी से छुट्टी मिलने के बाद मंत्री भी गाड़ी के भीतर थे।

इसी के साथ सीटीओ पर ड्यूटी में तैनात कर्मी ने मालरोड की तरफ से आ रही गाड़ी को रोका और चालक से प्रतिबंधित मार्ग से आने का कारण पूछा।

उसने बताया कि उसे मार्ग प्रतिबंधित होने की जानकारी नहीं थी। प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी समेत गाडी में उनकी बेटियां भी बैठी हुई थीं

प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और मुख्यमंत्री को छोड़ आपात सेवाओं के वाहनों को ही रिज से अस्पताल जाने की छूट

बताया जा रहा है कि मंत्री की गाड़ी का चालान होने के बाद चलान का भुगतान नहीं किया गया है। ऐसे में सील्ड रोड एक्ट के मुताबिक दस दिन के अंदर पुलिस के पास भुगतान करना है। इस रिज मैदान में केवल प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और

मुख्यमंत्री को छोड़ आपात सेवाओं के वाहनों को ही रिज से अस्पताल जाने की छूट है। जबकि अन्य वाहन यहां से लाना सख्त मना है। इसके बाद पुलिस की ओर से चालान कोर्ट में जाएगा। जहां करीब तीन हजार का भुगतान करना पड़ सकता है।

डीएसपी, ट्रैफिक कमल किशोर वर्मा ने बताया कि सील्ड रोड एक्ट के तहत गाड़ी का चालान किया गया

प्राप्त जानकारी के अनुसार उल्लेखनीय है कि सीटीओ पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं और बूम बैरियर भी लगा हुआ है। फिर भी मंत्रियों आदि की गाड़ियां केवल लक्कड़ बाजार में पुलिस गुमटी तक ही आ सकती हैं। इसके आगे बैरिकेड लगे हैं और वहां 24 घंटे पुलिस तैनात रहती है।

बताया जा रहा है की डीएसपी, ट्रैफिक कमल किशोर वर्मा ने बताया कि सील्ड रोड एक्ट के तहत गाड़ी का चालान किया गया है। साथ ही इस मार्ग पर सिर्फ राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल और मुख्यमंत्री और एम्बुलेंस ही यहां से आ जा सकती है। अन्य वाहनों को यहां से आने की अनुमति नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *