धर्मगुरु दलाई लामा जी-7 देशों के सांसदों के वर्चुअल सम्मेलन में नेताओं से ग्लोबल वार्मिंग पर की बातचीत

हिमाचल प्रदेश के जिला काँगड़ा में अपने आवास स्थान मैक्लोडगंज में विराजमान धर्मगुरु दलाई लामा जी-7 देशों के सांसदों के वर्चुअल सम्मेलन में नेताओं से ग्लोबल वार्मिंग पर ज्यादा से ज्यादा काम करने के लिए कहा।

तिब्बत व एशिया की प्रमुख नदियां प्रभावित होंगी

प्राप्त जानकारी के अनुसार दलाई लामा ने कहा कि बढ़ती ग्लोबल वार्मिंग के चलते तिब्बत व एशिया की प्रमुख नदियां प्रभावित होंगी क्योंकि तिब्बत में अब बहुत कम बर्फबारी हो रही है।

इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा की अनियमितताएं स्थिति को गंभीर बना रही हैं। किसी विशेष देश या समूहों के बजाय संपूर्ण मानवता के हित को ध्यान में रखना वास्तव में महत्वपूर्ण है।

ग्लोबल वार्मिंग का मुद्दा आज गंभीर हो गया है ( धर्मगुरु दलाई लामा )

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की ग्लोबल वार्मिंग का मुद्दा आज गंभीर हो गया है। इसी दौरान उन्होंने कहा की ग्लोबल वार्मिंग के कारण कुछ क्षेत्रों में बहुत अधिक बारिश होती है, तो कुछ में सूखा पड़ता है।

बताया जा रहा है की विशेष रूप से अफ्रीका के अलावा भारत और चीन के कुछ क्षेत्रों में यह समस्या बेहद गंभीर है।

जलवायु परिवर्तन का प्रभाव लोगों पर उनकी आर्थिक स्थितियों के आधार पर अलग-अलग पड़ता

इसी दौरान दलाई लामा ने कहा कि जलवायु परिवर्तन का प्रभाव लोगों पर उनकी आर्थिक स्थितियों के आधार पर अलग-अलग पड़ता है। साथ ही उन्होंने कहा की दलाई लामा ने वर्चुअल सम्मेलन में इस बारे में वीडियो संदेश दिया है।

Religion Dalai Lama talks with leaders on global warming at a virtual conference of MPs of G-7 countries

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *