हिमाचल व्यापत भ्रष्टाचार बढ़ती बेरोजगारी, महंगाई व जनसमस्याओं को लेकर प्रदेश कांग्रेस 08 सितंबर को चौड़ा मैदान में विरोध-प्रदर्शन करेगी

हिमाचल प्रदेश में व्यापत भ्रष्टाचार बढ़ती बेरोजगारी, महंगाई व जनसमस्याओं को लेकर प्रदेश कांग्रेस 08 सितंबर को चौड़ा मैदान में विरोध-प्रदर्शन करेगी। प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है,

की इस प्रदर्शन में हिमाचल प्रदेश भर के सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता भाग लेंगे। इसी के साथ बताया जा रहा है की कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने बताया कि प्रदेश कांग्रेस ने निर्णय लिया है।

समस्याओं को लेकर सरकार के आंख, कान खोलने का समय आ गया

लोगों की समस्याओं को लेकर सरकार के आंख, कान खोलने का समय आ गया है। इसी दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि जयराम सरकार हिमाचल प्रदेश की समस्याओं पर अंधी, गूंगी और बहरी बन कर बैठी है।

धरना-प्रदर्शन हिमाचल प्रदेश सरकार को जगाने का संघर्ष माना जा रहा

इसी पर विधानसभा के दौरान कांग्रेस का यह धरना-प्रदर्शन हिमाचल प्रदेश सरकार को जगाने का संघर्ष माना जा रहा है। इसी के साथ श्री राठौर ने कहा है कि अढ़ाई साल के इस कार्यकाल में हिमाचल प्रदेश सरकार की कोई भी बड़ी उपलब्धि नहीं है।

कोविड-19 के चलते सरकार के हाथ-पैर खड़े हो गए

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की पहले 02 साल सरकार ने ऐसे ही बिता दिए, अब कोविड-19 के चलते सरकार के हाथ-पैर खड़े हो गए हैं। एक तरफ हिमाचल प्रदेश में किसान, बागबान अपनी किस्मत पर रो रहे हैं।

कारोबारी भी प्रदेश सरकार की इस निति से हताशा में हैं

इसी के साथ बताया जा रहा है की दूसरी तरफ कारोबारी भी प्रदेश सरकार की इस निति से हताशा में हैं। सरकार ने इस दौरान किसी को भी कोई भी राहत या आर्थिक मदद नहीं दी जा रही है।

इसी के साथ उल्टे टैक्स लगाकर लोगों को लूटने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। ऐसा कांग्रेसियो का कहना है।

प्रदेश के लोगो को बेहद परेशानियों का सामना करना पड़ रहा

बिजली हो या पानी के बिल, हाउस टैक्स हो या अन्य कोई भी टैक्स, सब धड़ाधड़ वसूलने के नोटिस कारोबारियों के साथ-साथ सभी लोगों को दिए जा रहे हैं। जिस बजह से प्रदेश के लोगो को बेहद परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Himachal Pradesh corruption, state Congress will protest in wide field on September 8 on rising unemployment, inflation and public problems

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *