प्रदेश में ITI में विद्यार्थियों के पैसों पर खेल चल रहा है, राज्य लेखा परीक्षा विभाग की ऑडिट रिपोर्ट में कई चौंकाने वाले खुलासा

हिमाचल प्रदेश में ITI में विद्यार्थियों के पैसों पर खेल चल रहा है, प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य लेखा परीक्षा विभाग की ऑडिट रिपोर्ट में कई चौंकाने वाले खुलासे सामने आये है।

इसी के साथ मिली जानकारी के अनुसार करीब एक दशक की ऑडिट रिपोर्ट को देखें तो किसी ने उद्घाटन तो किसी ने मानदेय के लिए छात्र निधि के पैसे दे दिए प्रदेश सरकार ने इस रिपोर्ट को अपनी एक वेबसाइट पर सार्वजनिक किया है। जिस के बाद इस का खुलासा हुआ है।

शिक्षा निदेशक ने 7 जून 2011 को कार्यालय आदेश जारी

प्राप्त जानकारी के अनुसार रिपोर्ट के अनुसार तकनीकी शिक्षा निदेशक ने 7 जून 2011 को कार्यालय आदेश जारी कर औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान संधोल में एक लाख रुपये का अनियमित व्यय करवाया।

इसी के साथ बताया जा रहा है की इसे छात्र निधियों से दिया गया। जानकारी के अनुसार इसे नवसृजित संस्थान के उद्घाटन के लिए खर्च किया गया साथ ही उद्देश्य पूर्ति के बाद इस राशि को जल्द लौटाया जाना था।

आईटीआई संस्थान दिव्यांग सुंदरनगर को पिछले 05 साल से अधिक वक्त से छात्र निधियों में नुकसान उठाना पड़ा

जो नहीं किया गया इससे आईटीआई संस्थान दिव्यांग सुंदरनगर को पिछले 05 साल से अधिक वक्त से छात्र निधियों में नुकसान उठाना पड़ा है। जिस बजह से सरकार अन्य कार्य में पेसो को इस्तेमाल किया जा रहा है।

हिमाचल प्रदेश के जिला सोलन के राज्य औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान दिग्गल में छात्र कल्याण निधि से ट्रेनर्स के मानदेय या वेतन के रूप में 1 लाख 39 हजार रुपये का अनियमित व्यय किया गया।

31 मार्च 2017 को ऐसी धनराशि ITI रिकांगपिओ के पास 2 लाख 79 हजार 108 रुपये जमा थी

प्राप्त जानकारी के अनुसार इसका भुगतान भी छात्र कल्याण निधि से नहीं किया जा सकता था। इसी के साथ ITI महिला रिकांगपिओ में बचत खाते में पड़ी आधिक्य राशि को सावधि खाते में जमा नहीं किया गया। इसी के साथ इससे ब्याज का भी नुकसान हुआ है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 31 मार्च 2017 को ऐसी धनराशि ITI रिकांगपिओ के पास 2 लाख 79 हजार 108 रुपये जमा थी। इसके अलावा छात्रों की 3,600 रुपये की प्रवेश धनराशि को अनधिकृत रूप से छात्र कल्याण निधि की रोकड़ बही में जमा कर दिया गया है।

Sports are running on the students’ money in ITI in the state, many shocking revelations in the audit report of the state audit department

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *