राजधानी शिमला में भारत सरकार के आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय ने शिमला को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए 68 करोड़ रुपये की ग्रांट जारी की

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में भारत सरकार के आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय ने शिमला को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए 68 करोड़ रुपये की ग्रांट जारी कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की इसे मंत्रालय के स्मार्ट सिटी डिविजन की ओर से जारी किया गया है।

परियोजना फंड की पहली किस्त के रूप में दिया गया

इसी के साथ बताया जा रहा है की इसे परियोजना फंड की पहली किस्त के रूप में दिया गया है। साथ ही बताया जा रहा है की इसे जारी करने के साथ ही मंत्रालय ने कई तरह की शर्तें भी लगाई हैं।

डिवीजन के उप सचिव स्मार्ट सिटी-3 के जितेंद्र कुमार मेहान ने इस संबंध में सरकार को एक पत्र भेजा

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की डिवीजन के उप सचिव स्मार्ट सिटी-3 के जितेंद्र कुमार मेहान ने इस संबंध में सरकार को एक पत्र भेजा है। साथ ही बताया जा रहा है की इसमें कहा गया है कि यह ग्रांट उसी स्थिति में ही जारी मानी जाएगी, अगर पहले दी गई ग्रांट को पूरी तरह से खर्च किया गया है।

साथ ही बताया जा रहा है की इसका खर्च प्रमाणपत्र भारत सरकार के संबंधित मंत्रालय को देना होगा। इस बजट को मिशन के दिशा-निर्देशों के अनुसार ही खर्च किया जा सकेगा।

स्मार्ट सिटी मिशन के लिए खोले गए अलग ही खाते में रखना होगा

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की पूर्व की रिलीज के लिए कोई यूसी लंबित नहीं होना चाहिए। इसी के साथ बताया जा रहा है की इस पैसे को शिमला स्मार्ट सिटी लिमिटेड को स्मार्ट सिटी मिशन के लिए खोले गए अलग ही खाते में रखना होगा।

मुख्य सचिव और संबंधित प्रशासनिक सचिव को भी सूचित किया गया

साथ ही इसे किसी दूसरे खाते में जमा नहीं किया जा सकेगा। इस ग्रांट को जारी करने के बारे में मुख्य सचिव और संबंधित प्रशासनिक सचिव को भी सूचित किया गया है, इस ग्रांट को तभी ख़र्च किया जा सकता है। जब शर्तो को पूरा किया जा सकता है।

Ministry of Housing and Urban Development, Government of India, in the capital Shimla, issued a grant of Rs 68 crore to make Shimla a smart city

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *