काँगड़ा के डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज टांडा को कोरोना का बड़ा झटका, 25 हैल्थ वर्कर्ज कोरोना पॉजिटिव

हिमाचल प्रदेश डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज टांडा में अब तक 25 हैल्थ वर्कर्ज कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं, प्राप्त जानकारी के अनुसार इनमें से सबसे ज्यादा गायनी डिपार्टमेंट के 18 डाक्टर संक्रमित हुए हैं। हिमाचल प्रदेश में फैले कोरोना वायरस की बजह से लोगो को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

बताया जा रहा है की ऑर्थो विभाग से एक चिकित्सक सर्जरी के एक चिकित्सक, मेडिसिन के एक चिकित्सक और एक एनेसथीसिया चिकित्सक भी कोरोना संक्रमित हैं।

22 चिकित्सकों के अलावा 02 स्टॉफ नर्सेज और एक वार्ड ब्वाय को भी कोरोना संक्रमित

इसी के साथ कुल 22 चिकित्सकों के अलावा 02 स्टॉफ नर्सेज और एक वार्ड ब्वाय को भी कोरोना संक्रमित हुआ है। बताया जा रहा है की फिलहाल इन सभी 25 हैल्थ पर्सनल को कोविड सेंटर में रखा गया है, इसी के साथ मगर टांडा के

गायनी विभाग में सबसे ज्यादा 18 चिकित्सकों के पॉजिटिव आने व अधिकतर चिकित्सकों के आइसोलेशन में होने से टीएमसी का लेबर रूम बंद किया गया हैं। हालांकि अस्पताल प्रशासन की मानें तो तीन सितंबर से टांडा में यह सुविधा दोबारा शुरू की जा सकती है।

टांडा में रोजाना 600 से अधिक मरीजों के भर्ती होने के आंकड़े सामने आ रहे

हिमाचल प्रदेश में प्रशासन द्वारा टांडा के गायनी विभाग व लेबर रूम को रोजाना सेनेटाइज भी किया जा रहा है, साथ ही संक्रमितों के सम्पर्क में आये व्यक्तियों की जांच की जा रही है। ताकि संक्रमण ओग न फैल सकेइसी के साथ वहीं

कांगड़ा व पालमपुर अस्पताल को इन दिनों गर्भवती महिलाओं की डिलीवरीज के लिए चुना गया है। बताया जा रहा है की अब तक जहां टांडा में रोजाना 600 से अधिक मरीजों के भर्ती होने के आंकड़े सामने आते रहे हैं।

टीएमसी में एमर्जेंसी व रैफरल मरीजों का ही उपचार किया जाएगा

मगर परेशानी की बात यह है की अब वहा कमरे कम हो गए है। इसी के साथ सोमवार को टांडा में भर्ती मरीजों की संख्या केवल 209 रही। प्राप्त जानकारी के अनुसार ओपीडी भी बेहद कम थी। टीएमसी में एमर्जेंसी व रैफरल मरीजों का ही उपचार किया जाएगा।

इसी के साथ बताया जा रहा है की वहीं रूटीन चैकअप व फॉलोअप के लिए आने वाले मरीजों को अब उनके समीप के अस्पतालों में जाने को कहा गया है, इसी के साथ टीएमसी प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि वे पहले की तरह सामान्य बीमारियों को लेकर अस्पताल की ओपीडी में पहुंचकर भीड़ का हिस्सा न बनें।

Dr. Rajendra Prasad Medical College Tanda of Kangra suffered a major blow to Corona, 25 health workers corona positive

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *