कोरोना काल में अब नए बिजली कनेक्शन लगाना हुआ 03 से 04 गुना महंगा

हिमाचल प्रदेश में फैले कोरोना संकट के बीच हिमाचल में नया बिजली कनेक्शन लगाना 03 से 04 गुना महंगा हो गया है, साथ ही बताया जा रहा है की राज्य बिजली बोर्ड ने घरेलू, व्यावसायिक और औद्योगिक कनेक्शनों पर एडवांस कंज्यूमर डिपॉजिट में भारी बढ़ोतरी कर दी है, जिस से अब नया बिजली कनेक्शन लगाना 03 से 04 गुना महंगा हो गया है।

घरेलू बिजली कनेक्शन के लिए अब 360 रुपये प्रति किलोवाट की जगह 1,158 रुपये चुकाने होंगे

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की घरेलू बिजली कनेक्शन के लिए अब 360 रुपये प्रति किलोवाट की जगह 1,158 रुपये चुकाने होंगे, जो पहले के मुकाबले अपने आप में तीन से चार गुना अधिक है, औद्योगिक इकाइयों के कनेक्शन प्रति केवीए एक हजार से बढ़ाकर 4,882 रुपये कर दिया जाएगा।

इसी के साथ बताया जा रहा है की लघु एवं सूक्ष्म उद्योग, स्ट्रीट लाइट, वाटर पंप और अस्थायी मीटरों की राशि में भी बढ़ोतरी की गई है, जनता को इस बढते महंगे बिजली कनेक्शन के दाम को लेकर बेहद निराशा है।

औद्योगिकीकरण विस्तार में जुटी सरकार को बिजली कनेक्शन बढ़ोतरी का नुकसान उठाना पड़ेगा

इसी के साथ हिमाचल प्रदेश में इन्वेस्टर्स मीट कर औद्योगिकीकरण विस्तार में जुटी सरकार को बिजली कनेक्शन बढ़ोतरी का नुकसान उठाना पड़ेगा, इसी के साथ बताया जा रहा है की बड़े उद्योगों को अभी तक एक केवीए (किलोवाट अंपीयर) के लिए एक हजार रुपये देने पड़ते थे।

इसी के साथ अब इसके 4,882 रुपये चुकाने पड़ेंगे साथ ही बताया जा रहा है की लघु एवं सूक्ष्म उद्योगों को प्रति केवीए अब 500 की जगह 2,047 से 2,221 रुपये तक चुकाने पड़ेंगे।

निर्माण कार्यों के लिए इस्तेमाल होने वाले अस्थायी बिजली मीटरों में सबसे अधिक बढ़ोतरी

इसी के साथ प्रदेश बिजली बोर्ड ने निर्माण कार्यों के लिए इस्तेमाल होने वाले अस्थायी बिजली मीटरों में सबसे अधिक बढ़ोतरी की है, अभी तक प्रति केवीए 850 रुपये देने पड़ते थे। अब 7826 रुपये लगेंगे।

वाटर पंप सप्लाई के मीटर अब 350 रुपये प्रति केवीए की जगह 4873 रुपये में लगेंगे। सरकार को स्ट्रीट लाइटें लगाने के लिए अपनी जेब भी ढीली करनी पड़ेगी। स्ट्रीट लाइट कनेक्शन के लिए प्रति केवीए 500 रुपये लगते थे।

अब 3525 रुपये लगेंगे। 27 अक्तूबर से बिजली बोर्ड के सॉफ्टवेयर में नए कनेक्शन के लिए आवेदन करने के लिए बढ़ी हुई राशि अपडेट हो गई है।

कुछ माह पूर्व भी सरकार ने बिजली दरों पर सब्सिडी राशि घटाकर लोगों की परेशानियों को बढ़ाया था, जिस वजह से लोगो को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *