स्कूल शिक्षा बोर्ड ने सूबे के लाखों छात्रों को कोरोना महामारी के बीच दिया बड़ा झटका

हिमाचल प्रदेश में फैले कोरोना संकट में प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने सूबे के लाखों छात्रों को कोरोना महामारी के बीच बड़ा झटका दिया है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की मार्च, 2021 में होने वाली बोर्ड परीक्षा में शिक्षा बोर्ड परीक्षार्थियों से 10 फीसदी अधिक परीक्षा शुल्क वसूलेगा, जिस से छात्रों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। यह फैसला मार्च से पहले हुई बीओडी की बैठक में लिया गया था।

शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने दी जानकारी

इसी के साथ बताया जा रहा है की अब इस प्रक्रिया को लागू किया गया है,साथ ही बताया जा रहा है की शिक्षा बोर्ड अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने बताया कि मार्च में हुई बीओडी की बैठक में शुल्क बढ़ाने का फैसला लिया था, लेकिन कोरोना वायरस के चलते इसे उस समय न बढ़ाकर अब बढ़ाया है।

परीक्षा के दौरान दसवीं के छात्रों को इस बार 600 रुपये परीक्षा शुल्क देना होगा

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की मार्च, 2021 में होने वाली बोर्ड की परीक्षा के दौरान दसवीं के छात्रों को इस बार 600 रुपये परीक्षा शुल्क देना होगा, यह शुल्क पहले 500 रुपये था, जमा दो के छात्रों को अब 700 की जगह 850 रुपये प्रैक्टिकल परीक्षाओं सहित चुकाने होंगे।

डीएलएड के नियमित अभ्यर्थियों को भी 650 की जगह अब 800 रूपये देने होंगे

साथ ही डीएलएड के नियमित अभ्यर्थियों को भी 650 की जगह अब 800 रूपये देने होंगे, इसी के साथ प्राइवेट छात्रों को 900 की जगह अब 1100 रुपये परीक्षा

शुल्क देना होगा कोरोना काल के बाद यह छात्रों को एक बड़ा झटका है, जिस का छात्र विरोध कर रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *