घर घर कोरोना जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की 8,000 टीमें गठित

himchal pradesh

हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस की महामारी बेकाबू हो गई है, हर दिन हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमितों के मामले बढ़ते ही जा रहे है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की प्रदेश सरकार ने इस पर इस कोरोना

वायरस पर काबू पाने के लिए लोगों के घर-घर जाकर टेस्ट करने का फैसला लिया है, इसी के साथ बताया जा रहा है की सरकार ने इस योजना के लिए हिम सुरक्षा अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग की 8,000 टीमें गठित की गयी हैं।

हर टीम में 2-2 सदस्य रहेंगे

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की हर टीम में 2-2 सदस्य रहेंगे, इसी के साथ यह अभियान 25 नवंबर से 27 दिसंबर 2020 तक चलाया जाएगा, साथ ही 24 नवंबर को प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर रिज मैदान से इस योजना की शुरुआत करेंगे।

अलग-अलग गैर सरकारी संस्थानों के सामूहिक सहयोग से चलेगा यह अभियान

कहा जा रहा है की इस अभियान के तहत सभी लोगों की कोविड-19, तपेदिक, कुष्ठ

रोग, मधुमेह और उच्च रक्तचाप आदि रोगों के लक्षणों की जानकारी हासिल की जाएगी, साथ ही यह अभियान स्वास्थ्य विभाग, आयुर्वेद विभाग के साथ साथ महिला एवं बाल विकास विभाग और पंचायती राज विभाग के साथ जिला प्रशासन

और अलग-अलग गैर सरकारी संस्थानों के सामूहिक सहयोग से चलेगा, जिस से प्रदेश में कोरोना संक्रमित लोगो को घर घर जा कर डुंडा जाएगा।

स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने दी जानकारी

इसी के साथ हिमाचल प्रदेश स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने कहा कि किसी को भी कोविड-19 के कोई भी लक्षण जैसे कि नजला, जुखाम, खांसी, बुखार, स्वाद

या सूंघने की शक्ति में बदलाव के साथ सांस लेने में तकलीफ जैसी बीमारियां हों ऐसे में उनके सैंपल लिए जाएंगे,

शुगर, ब्लड प्रेशर, दमा, कैंसर जैसी बीमारी की जानकारी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से न छिपाएं

साथ ही उन्होंने हिमाचल प्रदेश की जनता से अपील की है कि शुगर, ब्लड प्रेशर, दमा, कैंसर जैसी बीमारी की जानकारी स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं से न छिपाएं यह ऐसा

करना आप के लिए हानिकारक हो सकता है। जिस से आप बड़ी प्रेसजनि में फस सकते है। इस लिए स्वास्थ्य कर्मियों को पूरी जानकारी दे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *