मंडी में ईको फ्रेंडली दीपावली मनाने की तैयारी पूरी, गोबर से बने दीये हुए प्रसिद्ध

eco friendly diwali

हिमाचल प्रदेश में छोटी काशी के नाम से विख्यात मंडी जिला इस बार इस साल दीपावली अलग अंदाज से मनाया जाएगा, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा

रहा है कि इस साल राष्ट्रीय कामधेनू आयोग के आहवान पर ईको फ्रेंडली दीपावली मनाने में अपनी अहम भूमिका निभाने जा रहा है।

गाय के गोबर से बने 11 करोड़ दीये जलाने का लक्ष्य निर्धारित

आयोग का कहन है की वो इस साल दीपावली पर देश भर में गाय के गोबर से बने 11 करोड़ दीये जलाने का लक्ष्य को पूरा करेंगे, इसी के साथ उनका कहन है की इस वैदिक प्लस्तर संस्था ने गोबर से बने दीये और अन्य उत्पादों को मंडी के बाजारों में उतार दिया है।

ऐतिहासिक सेरी मंच पर संस्था ने गोबर से बने उत्पादों का स्टॉल भी लगा दिया

साथ ही बताया जा रहा है की इस साल मंडी शहर के ऐतिहासिक सेरी मंच पर संस्था ने गोबर से बने उत्पादों का स्टॉल भी लगा दिया है, जिस से गोबर से बने 04 दीए 50 रूपए में जबकि 6 दीयों का सेट 80 रूपए में बेचा जा रहा है।

पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं

यह देखने में भी बहुत ही आकर्षित और खूबूसरत है, इसी के साथ बताया जा रहा है की इन उत्पादों से जहां पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं पहुंचेगा वहीं गाय के

संरक्षण में भी बल मिलेगा। यह बेहद लाभकारी दिए है, इसी लिए सभी प्रदेश वासियो को इन गोबर से बने दीये को उपयोग में लाने के लिए कहा जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *