पिछले साल के मुकाबले इस साल आलू के बीजो के दाम में हुई बढ़ोतरी

देश प्रदेश में बढ़ती महंगाई ने आलू बीज के दामों में भी आग लगा दी है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की हिमाचल प्रदेश में कोरोना काल में किसानों को आलू बीज महंगे दामों में खरीदने पड़ेंगे,

इस साल आलू के बीज के किसानों को बीते साल के मुकाबले 13 रुपए प्रति किलोग्राम के हिसाब से अधिकचुकाने पडे़ंगे, जिस बजह से प्रदेश कई किसान परेशानी में है।

इसी के साथ उल्लेखनीय है कि कई बार आलू के दाम इतने कम होते हैं कि किसान की कोल्ड स्टोरेज के किराए की लागत भी नहीं निकल पाती है।

इसी समय आलू 50 रुपए प्रति किलो तक बिक रहा

मगर इस बार स्थिति बेहद बदली हुई व्यतीत हो रही है, बताया जा रहा है की यहां आलू की मांग पिछले सालों के मुकाबले लगातार बढ़ी रही है, इसी समय आलू 50

रुपए प्रति किलो तक बिक रहा है, साथ ही आलू के दाम बढ़ने से इसका असर आलू बीज के दामों पर भी पड़ा है, जिस बजह से इस साल आलू बीज के दाम आसमान छू रहे है।

इस साल बीजो में कोरोना वायरस की बजह से 13 रुपए तक की बढ़ोतरी आंकी गई

जानकारी के अनुसार इस बार आलू बीज के दाम 51 रुपए प्रति किलोग्राम के हिसाब से मिलेंगे, साथ ही आलू बीज के दाम निधार्रित कर दिए गए हैं, बीते साल किसानों को आलू बीज 38 रुपए प्रति किलो ग्राम के हिसाब से प्राप्त हुए थे जो इस साल कोरोना वायरस की बजह से 13 रुपए तक की बढ़ोतरी आंकी गई है।

इसी के साथ बताया जा रहा है, ऐसे में आलू की खेती करने वाले किसानों को आलू बीज के लिए 51 रुपए तक कीमत चुकानी पडे़गी, जिस बजह से किसान बेहद परेशान है।

हर साल आलू के बीज की डिमांड 900 से 1000 क्विंटल तक रहती

इस कोरोना काल में हिमाचल प्रदेश में इस साल आलू के बीज महंगे होने की बजह से आलू के दाम में भी और अधिक बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है, हर साल आलू के बीज की डिमांड 900 से 1000 क्विंटल तक रहती है,

लेकिन बताया जा रहा है की इस साल अभी तक कृषि विभाग के पास 7,100 क्विंटल आलू की डिमांड ही आई है। साथ ही हिमाचल में किसानों को आलू का बीज उपलब्ध करवाने के लिए कृषि विभाग द्वारा कवायद शुरू कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *