HPU ने हाल ही में हुए नीट परीक्षा के आधार पर स्टेट कम्बाइंड मेरिट जारी की

NIIT EXAM

हिमाचल प्रदेश के विश्वविद्यालय ने हाल ही में हुए नीट परीक्षा के आधार पर स्टेट कम्बाइंड मेरिट जारी कर दी है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की इसमें भाव्या शर्मा (सामान्य वर्ग) ने टॉप किया है,

इसी के साथ आस्था (सिंगल गर्ल चाइल्ड) ने प्रदेश भर में दूसरा स्थान हासिल किया है, इसी के साथ रक्षित वशिष्ठ (सामान्य वर्ग) ने तीसरा स्थान प्राप्त कर अपने परिजनों का नाम रोशन किया है।

विवि से संबद्ध सरकारी 06 मेडिकल तथा 01 निजी मेडिकल और 01 सरकारी 03 निजी डेंटल कॉलेज की सीट का आवंटन किया

इसी के साथ संयुक्त मेरिट के आधार पर ही विवि से संबद्ध सरकारी 06 मेडिकल तथा 01 निजी मेडिकल और 01 सरकारी 03 निजी डेंटल कॉलेज की सीट का आवंटन किया जाएगा,

इसी के साथ बताया जा रहा है की इस मेरिट के जारी किए जाने के साथ ही 19 नवंबर को दोपहर 04 बजे तक अभ्यर्थियों को अपनी च्वाइस का कॉलेज बदलने और कैटेगरी के अलावा अन्य सुधार करने का मौका दिया जाएगा।

26 तक आवंटित कॉलेज में प्रवेश करने को रिपोर्ट करने का समय रहेगा

इसी के साथ बताया जा रहा है की प्रदेश के इन कॉलेज के अलावा अन्य बदलाव किए जाने की सूचना ई मेल के माध्यम से विवि को भेजनी होगी साथ ही विवि के परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी ने कहा कि शेड्यूल के मुताबिक 23 को सीट

आवंटन के बाद लिस्ट जारी कर दी जाएगी, साथ ही 26 तक आवंटित कॉलेज में प्रवेश करने को रिपोर्ट करने का समय रहेगा।

तीसरे रैंक पर रहे प्रदेश के जिला कांगड़ा के रक्कड़ चमेटी गांव के रहने वाले रक्षित

इसी के साथ स्टेट संयुक्त मेरिट में दूसरे स्थान पर रही आस्था ने अपनी इस सफलता का श्रेय अपने माता पिता को दिया है, इसी के साथ तीसरे रैंक पर रहे प्रदेश के जिला कांगड़ा के रक्कड़ चमेटी गांव के रहने वाले रक्षित ने पूरा एक साल

तक ड्रॉप कर कोचिंग और कड़ी मेहनत के बाद नीट में शानदार प्रदर्शन कर स्टेट की संयुक्त मेरिट तीसरा स्थान हासिल किया है।

अरूज रायटा ने पहली बार नीट में 654 अंक हासिल कर मेरिट में जगह बना ली

इसी के साथ चौथे स्थान पर रही अरूज रायटा ने पहली बार नीट में 654 अंक हासिल कर मेरिट में जगह बना कर अपने शिक्षको और अपने परिजनों का नाम रोशन किया है,

इसी के साथ नीट में स्टेट टॉपर और आल इंडिया में 400वें रैंक पर रही शिमला की भाव्या शर्मा ने चिकित्सक पिता डॉ राजेश शर्मा, माता डॉ. विनीता शर्मा

ने मिलकर IGMC शिमला से ही MBBS की पढ़ाई करने का फैसला लिया है, इसी के साथ माता पिता ने कहा कि बेटी की उपलब्धि पर उन्हें मान है, तथा उन्होंने अपने बेटी की इस उपलब्धि पर बेहद नाज किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *