लाहौल-स्पीति के थोरंग गांव में एक व्यक्ति को छोड़कर सभी 42 लोग कोरोना पॉजिटिव

corona in himahcal

हिमाचल प्रदेश के एक गांव को कोरोना का बड़ा झटका प्रदेश के जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति के थोरंग गांव में एक व्यक्ति को छोड़कर सभी 42 लोग कोरोना

पॉजिटिव पाए गए हैं, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की इस शख्स की पत्नी समेत परिवार के 06 लोग भी कोरोना संक्रमित हैं।

भूषण ठाकुर (52) ही गांव में अकेले ऐसे शख्स जिन्हे कोरोना छू भी नहीं पाया

इसी के साथ भूषण ठाकुर (52) ही गांव में अकेले ऐसे शख्स हैं, जिन्हें कोरोना छू भी नहीं पाया। भूषण ने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए वह पूरे नियमों का पालन करते हैं जिस बजह से वो आज उस कोरोना के चपेट में नहीं आ पाए है।

CMO लाहौल-स्पीति डॉ. पलजोर ने कहा कि शायद भूषण का इम्युनिटी सिस्टम बेहद मजबूत

इसी के साथ बताया जा रहा है की CMO लाहौल-स्पीति डॉ. पलजोर ने कहा कि शायद भूषण का इम्युनिटी सिस्टम बेहद मजबूत तथा वो कोरोना बचाव के लिए बनाये गए नियमो का पूरा पालन करते है,

इसी लिए उन्हें कोरोना हाथ में नहीं लगा पाया, गांव के सभी लोगों के पॉजिटिव आने के बावजूद भूषण का निगेटिव आना सभी को हैरान करने वाला मामला है।

स्वेच्छा से 04 दिन पहले टेस्ट करवाने का फैसला लिया था

इसी के साथ गांव के 05 लोग पहले पॉजिटिव आए थे, इसके बाद बाकी लोगों ने बैठक कर स्वेच्छा से 04 दिन पहले टेस्ट करवाने का फैसला लिया था,

हालांकि इस गांव में करीब 100 लोग रहते हैं, बताया जा रहा है की इन दिनों बर्फबारी के चलते इन दिनों कई लोग कुल्लू चले गए हैं।

इसी के साथ बताया जा रहा है की भूषण ने कहा कि जबसे परिवार के सदस्य कोरोना पॉजिटिव आए हैं, तब से वह अलग कमरे में रह रहे हैं, साथ ही वो खाना खुद बना रहे हैं।

परिजनों के साथ उन्होंने भी 4 दिन पहले सैंपल दिया था

तथा परिजनों के साथ उन्होंने भी 4 दिन पहले सैंपल दिया था, इसी के साथ रिपोर्ट में परिवार के अन्य लोग पॉजिटिव निकले तथा उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई, इसी

की साथ सैंपल देने तक वह पूरे परिवार के साथ ही थे। बताया जा रहा है की इस रिपोर्ट से वह खुद भी हैरान हैं।

साथ ही भूषण ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस को हल्के में न लें तथा वह शुरू से ही नियमित मास्क पहनने के साथ हाथ सैनिटाइज करना नहीं भूलते थे तथा

डिस्टेंसिंग का खयाल रखते हैं, जिस बजह से पुरे गांव को कोरोना होने के बाबजूद वो इस वायरस से बच्चे रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *