हिमाचल के शीत मरुस्थल लाहुल-स्पीति में सड़को में जमी बर्फ, फिसलन बढ़ी

हिमाचल प्रदेश में इस सीजन की बर्फ़बारी की बजह से हिमाचल में तापमान में भरी गिरावट आई है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की प्रदेश में हुई बर्फबारी के बाद हिमाचल का शीत मरुस्थल जिला

लाहुल-स्पीति में तापमान काफी अधिक लुढ़क गया है, ऐसे में यहां सड़कों पर भी बर्फ जमना शुरू हो गई है, जिस बजह से यहां की सड़कों पर फिसलन बढ़ गई है।

प्रदेश में बर्फबारी के बाद सैलानियों की आवाजाही भी काफी अधिक बढ़ गई

इसी के साथ बताया जा रहा है की हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी के बाद सैलानियों की आवाजाही भी काफी अधिक बढ़ गई है, इसी के साथ यह भी कहा जा रहा है की हिमाचल प्रदेश के इस उच्च क्षेत्र वाले जिले लाहुल के प्रशासन व मनाली एसडीएम ने भी लोगों से सड़क में पाला जमने व सड़क फिसलनदार होने पर वाहन न चलाने की सलाह दी है।

लाहौल की सड़को में सुबह और देर शाम को सड़को में अपने वाहन लेकर ना जाए

इसी के साथ एसपी लाहुल-स्पीति मानव वर्मा ने भी स्थानीय लोगों सहित बाहरी राज्यों से आ रहे सैलानियों से आग्रह किया है, कि वो सुबह और देर शाम को सड़को में अपने वाहन लेकर ना जाए क्युकी यहां ब्लैक आइस के

कारण एनएच-003 के विभिन्न हिस्सों में फिसलन बढ़ रही है, जिस बजह से किसी भी प्रकार की दुर्घटना हो सकती है, इस लिए उन्होंने जनता से आग्रह किया है, की सड़क में चलते समय ध्यान से चले।

चालक सुबह 09 से शाम 05 बजे तक के बीच में ही यात्रा करें

इसी लिए यहां वाहन चालक सुबह 09 से शाम 05 बजे तक के बीच में ही यात्रा करें, जिस से आप अपने आप को सुरक्षित रख सकते है, इसी के साथ यह भी बताया जा

रहा है कि गुरुवार को सैलानियों को पुलिस ने सिस्सू सहित अन्य कंटेंमेंट जोन में जाने से रोका है, साथ ही पुलिस ने सैलानियों से यहां आग्रह किया कि वे इन एरिया में न जाए।

कई पंचायतों में कोरोना वायरस के मामले सामने आने से पर्टयकों को प्रवेश बंद

साथ ही उन्हें यह भी कहा है की वो पिछले कुछ दिनों से बर्फबारी के बाद से लाहुल में सैलानी काफी संख्या में पहुंच रहे हैं, जबकि इस दौरान यहां स्तिथ कई पंचायतों में कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं, इसी के

चलते गुरुवार को सैलानियों को इन एरिया में विजिट करने से मना किया गया है, ताकि लोगों को किसी प्रकार का दिक्कत का सामना न करना पड़े तथा इस वायरस से भी जनता को सुरक्षित रखा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *