डा. मल्लिका नड्डा ने कि हिमाचल के सभी धार्मिक शक्तिपीठो की यात्रा

डा. मल्लिका नड्डा ने हिमाचल प्रदेश में स्तिथ प्रसिद्ध शक्तिपीठो की यात्रा की, ओलंपिक भारत की उपाध्यक्ष तथा हिमालय परिवार की प्रदेश संयोजिका के साथ साथ चेतना संस्था बिलासपुर की संस्थापक डा. मल्लिका नड्डा ने गुरुवार को परिवार सहित हिमाचल प्रदेश में प्रदेश के शक्तिपीठों के दर्शन किए।

कोरोना की बजह से पहले नहीं कर पाई थी यात्रा

इसी के साथ बताया जा रहा है की डा. नड्डा का यह कार्यक्रम नवरात्र में तय हुआ था, लेकिन प्रदेश भर में फैले कोरोना संकट की वजह से मंदिरों के कपाट बंद होने के चलते अब शक्तिपीठों के दर्शन का कार्यक्रम तय नहीं हो पाटा था जिस बजह से वो अब इन शक्तिपीठों के दर्शन के लिए पहुंची है।

राज्यों में उपचुनाव जीत के लिए शक्तिपीठों में मां के दर न केवल आभार जताया

इसी के साथ बताया जा रहा है की बिहार और अन्य राज्यों में उपचुनाव जीत के लिए शक्तिपीठों में मां के दर न केवल आभार जताया, बल्कि उन्होंने अगली पश्चिम बंगाल की जीत की बड़ी चुनौती से पार पाने के लिए मां के समक्ष अरदास

की इसी के साथ ही देश और प्रदेश के उज्ज्वल भविष्य के अलावा कोरोना संकट से निजात दिलाने के लिए भी माँ से प्रार्थना की।

मां बगलामुखी के दर पहुंच कर यहां पर हवन यज्ञ किया

इसी एक साथ डा. मल्लिका नड्डा ने अपने परिवार सहित सबसे पहले मां ज्वालाजी के दर्शन किए और उसके बाद चिंतपूर्णी के बाद फिर मां बगलामुखी के

दर पहुंच कर जहां पर हवन यज्ञ किया इसी के साथ उन्होंने काँगड़ा के ब्रजेश्वरी मां के दर भी अरदास लगाई, जहां उन्होंने शीश नवाने के बाद माँ चामुंडा मंदिर के लिए रवाना हुईं।

राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की धर्मपत्नी है डा. मल्लिका नड्डा

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की धर्मपत्नी डा. मल्लिका नड्डा ने जानकारी देते हुए बताया कि जेपी नड्डा की अगवाई में बिहार चुनाव और अन्य भारत के राज्यों में उपचुनाव में पार्टी की जीत हुई है, अब सभी की

नजरे पश्चिम बंगाल जीत पर टीकी हुई है, यह पार्टी के लिए एक बड़ी चुनौती है, इसी लिए विजयश्री के आशीर्वाद के लिए शक्तिपीठों में प्रार्थना की गई है और शुभ आशीर्वाद भी मांगा गया है, ताकि यहां भी जीत ही हासिल हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *