प्रदेश के बाज़ारो से चाइनीस सामान गयाब, स्वदेशी सामान बेच रहे व्यापारी

eco friendly diwali

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी शहर हो या कोई अन्य गांव हिमाचल प्रदेश में सभी स्थानी में दीपावली की तैयारियां तेज हो गयी है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की मंडी शहर में भी दीपावली पर्व के लिए बाजार सज चुके हैं।

इंदिरा मार्केट की छत पर कैलेंडर, मूर्ति व दीये की दुकानें सज चुकी

इसी के साथ शहर के चौहटा बाजार, स्कूल बाजार, बस स्टैंड और इंदिरा मार्केट की छत पर कैलेंडर, मूर्ति व दीये की दुकानें सज चुकी हैं, जो बहुत ही आकर्षित व्यतीत हो रहे है, इसी के साथ घरों की सजावट के लिए लोग खरीदारी कर रहे हैं।

बाजार में अब चीन का सामन गयब होने लगा, स्वदेशी पर ध्यान केंद्रित

इसी के साथ चीन निर्मित सामान इस बार बाजार से गायब हो गया है, बताया जा रहा है की बाजार में अब चीन का सामन गयब होने लगा है,

इसी के साथ लोग भी बाजार में मिट्टी से बने दिय व अन्य स्वदेशी सामान की ही खरीददारी कर रहे हैं। बाजार में स्वदेशी सामान ही बिक रहा है।

चोहट्टा बाजार में मिट्टी से बने दिए और अन्य स्वदेशी सामान बेच रहे व्यापारी

इसी के साथ बताया जा रहा है की चोहट्टा बाजार में मिट्टी से बने दिए और अन्य स्वदेशी सामान बेच रहे है, इसी के साथ कई स्थानों में गाय से बने गोबर के भी दीये

भी बिक रहे है, साथ ही दुकानदारों का कहना है कि वह इस बाजार में कोई भी चाइनीस आइटम नहीं बेच रहे हैं।

05 दिवसीय दीपोत्सव की शुरुआत 12 नवंबर से हो रही

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की स्थानीय निवासी अजीत कपूर कहना है कि बाजार में व्यापारी इस बार स्वदेशी सामान को ही बेच रहे है।

इसी के साथ बताया जा रहा है की बता दें कि 05 दिवसीय दीपोत्सव की शुरुआत 12 नवंबर से हो रही है, इसी के साथ धनतेरस से दीपोत्सव की शुरुआत होती है और भाई दूज के साथ उत्सव समाप्त हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *