एक बार फिर डिपो में राशन बायोमीट्रिक मशीन में अंगूठा लगाने से ही मिलेगा

himachal pradesh rashan card

हिमाचल प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच एक बार फिर डिपो में राशन बायोमीट्रिक मशीन में अंगूठा लगाने से ही मिलेगा, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की इसको लेकर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग व सरकार ने पूरी तैयारियां कर ली हैं।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने सरकार को प्रोपोजल भेजा

इसी के साथ केंद्र सरकार से मिले आदेशों के बाद खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने सरकार को प्रोपोजल भेजा था, साथ ही इसके बाद सरकार ने राज्य

आपदा प्रबंधन को लेटर भेजकर डिपो में फिर से बायोमीट्रिक मशीन शुरू करने की अनुमति मांगी है, जिसके बाद प्रदेश में स्तिथ डिपो में राशन बायोमीट्रिक मशीन से ही मिलेगा।

वन नेशन-वन कार्ड के तहत बायोमीट्रिक मशीन में हर उपभोक्ता को अंगूठा लगाना जरूरी

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि दिसंबर माह में ही इनका इस्तेमाल लोगों को राशन देने के लिए कर दिया जाएगा, इसी के साथ हिमाचल प्रदेश खाद्य आपूर्ति विभाग को केंद्र सरकार ने डिपो में बायोमीट्रिक

मशीन से राशन देने की प्रक्रिया को फिर से शुरू करने को कहा है, इसी के साथ केंद्र सरकार का कहना है कि वन नेशन-वन कार्ड के तहत बायोमीट्रिक मशीन में हर उपभोक्ता को अंगूठा लगाना जरूरी है।

पारदर्शिता आसानी से लाई जा सकती है

इसी के साथ इससे कोई भी व्यक्ति कहीं से भी अगर राशन लेता है, तो इसमें पारदर्शिता आसानी से लाई जा सकती है, साथ ही यही वजह है कि हिमाचल प्रदेश सरकार ने इस को लेकर प्लानिंग शुरू कर दी गयी है,

हिमाचल प्रदेश में संक्रमण का खतरा उपभोक्ताओं को न हो, इसके लिए समय-समय पर बायोमीट्रिक मशीनों को सेनेटाइज किया जाएगा।

बायोमीट्रिक की सेनेटाइजिंग को लेकर व्यवस्था करने के आदेश जारी कर दिए

इसी के साथ इसके लिए विभाग ने सभी डिपो धारकों को अभी से ही बायोमीट्रिक की सेनेटाइजिंग को लेकर व्यवस्था करने के आदेश जारी कर दिए हैं, साथ ही राज्य आपदा प्रबंधन से बायोमीट्रिक शुरू करने को लेकर परमिशन मिलेगी।

हिमाचल प्रदेश में 06 लाख 79 हजार 247 राशन कार्ड हैं

इसी के साथ डिपो धारकों को पोस मशीनों में एंट्री करने के साथ ही बायोमीट्रिक में भी उपभोक्ताओं का अंगूठा लगाना होगा, साथ ही बता दें कि हिमाचल प्रदेश में 06 लाख 79 हजार 247 राशन कार्ड हैं, इसी के साथ इसके

साथ ही 18 लाख उपभोक्ता इस समय डिपो से राशन ले रहे हैं, साथ ही राज्य में 5,001 उचित मूल्य की दुकाने स्तिथ है, जिन में अब केंद्र सरकार ने डिपो में बायोमीट्रिक मशीन से राशन देने की प्रक्रिया को फिर से शुरू करने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *