शिमला के नारकंडा से हाटु पीक क्षेत्र तक रोप-वे लगाने की योजना हुई तैयार

rop way in himachal

हिमाचल प्रदेश के जिला शिमला के नारकंडा का हाटु पीक क्षेत्र अब पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की यहां, अब नारकंडा से हाटु पीक के लिए सरकार द्वारा रोप-वे की

योजना बनाई गयी है, जिस से यहां पर अब रोप-वे बनाया जाएगा, इसी के साथ रोप-वे एंड रैपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम डेवलपमेंट कारपोरेशन ने इसका प्रस्ताव तैयार कर लिया है।

रोप-वे बनने से इस क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा

इसी के साथ 10 नवंबर को मंत्रिमंडल की बैठक में इस मामले पर चर्चा की जायेगी, साथ ही बताया जा रहा है की यह रोप-वे पीपीपी मोड से बनाया जाएगा तथा इस रोप-वे बनने से इस क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा, तथा यहां पर्टयकों की संख्या में भी बढ़ोतरी हो सकती है।

साथ ही स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के भी अवसर मिलेंगे तथा नारकंडा से हाटु पीक की दूरी करीब 6 किलोमीटर है, जिस को अब रोप-वे की सहायता से आसान बनाया जाएगा।

डेढ़ किलोमीटर का रोमांच भरा सफर करते हुए हाटु पीक पहुंचेंगे पर्टयक

इसी के साथ इस रोप-वे के बनने से पर्यटक डेढ़ किलोमीटर का रोमांच भरा सफर करते हुए हाटु पीक पहुंचेंगे, तथा पर्टयक यहां से प्राकर्तिक सौंदर्य के नजारे भी देख सकते है। इसी के साथ बर्फबारी के दौरान नारकंडा और हाटु पीक का नजारा और भी खूबसूरत होता है।

सरकार यह रोप-वे पीपीपी मोड से बनाएगी

साथ ही देवभूमि कुल्लू तथा मनाली और रोहतांग जाने वाले सैलानी अकसर हाटु पीक घूमने और समय व्यतीत करने के लिए जाते हैं, ऐसे में सरकार ने इस क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने का फैसला लिया है,

जिस बजह से यहां पर्टयकों की संख्या में बढ़ोतरी होगी। साथ ही सरकार यह रोप-वे पीपीपी मोड से बनाएगी, इसी के साथ कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद सरकार इसके निर्माण को लेकर निविदाएं आमंत्रित करेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *