(IGMC) शिमला का आइसोलेशन वार्ड कोरोना पॉजिटिव से भरा

igmc

हिमाचल प्रदेश में इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज (IGMC) शिमला का आइसोलेशन वार्ड कोरोना पॉजिटिव मरीजों से भर गया है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया

जा रहा है की अस्पताल में स्थिति यह बन गई है कि अब किसी भी मरीज को दाखिल नहीं किया जा सकता है।

इसी के साथ अस्पताल में 82 बिस्तर कोविड पॉजिटिव मरीजों से भर चुके है, इसी के साथ इसके बाद अब किसी भी मरीज के दाखिल करने की गुंजाइश डॉक्टरों के पास नहीं है।

अस्पताल (IGMC) के इस निर्देश से अन्य मेडिकल कॉलेजों और जिला अस्पतालों में हड़कंप मचा हुआ

इसी के साथ अब अस्पताल प्रबंधन ने अन्य मेडिकल कॉलेजों के अलावा जिले भर से कोरोना पॉजिटिव मरीजों को बेवजह रेफर न करने का आग्रह किया है, इसी के साथ शिमला का यह इंदिरा गांधी मेडिकल कॉलेज एवं

अस्पताल (IGMC) के इस निर्देश से अन्य मेडिकल कॉलेजों और जिला अस्पतालों में हड़कंप मचा हुआ है, साथ ही कहा जा रहा है की शहर के अलावा पूरे हिमाचल प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं।

इंतजाम न होने से अब IGMC प्रबंधन के हाथ खड़े

इसी के साथ लिहाजा अन्य इंतजाम न होने से अब IGMC प्रबंधन के हाथ खड़े हो गए हैं, इसी के साथ दूसरी ओर 18 बिस्तर वाला मेक शिफ्ट अस्पताल बनने में भी करीब 2 से 3 सप्ताह का समय लग जाएगा,

इसी के साथ IGMC में कोरोना पॉजिटिव आए मरीजों के लिए आफत शुरू हो गई है।

IGMC मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. रजनीश पठानिया ने दी जानकारी

इसी के साथ IGMC मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. रजनीश पठानिया ने बताया कि आइसोलेशन वार्ड कोविड पॉजिटिव मरीजों से भर चुका है। इसी के साथ इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग के उच्च अधिकारियों को दे दी गयी है।

मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में इनकी सही से देखरेख की जा सकती

इसी के साथ मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की IGMC शिमला प्रबंधन का कहना है कि पूरे हिमाचल प्रदेश से कोरोना संक्रमित मरीजों को यहां रेफर किया जा रहा है।

इसी के साथ इनमें वह मरीज भी शामिल हैं जिनकी स्थिति गंभीर नहीं है, इसी के साथ लिहाजा मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में इनकी सही से देखरेख की जा सकती है।

प्रदेशभर के मरीजों का भार IGMC पर थोपा जा रहा

इसी के साथ लेकिन प्रदेशभर के मरीजों का भार IGMC पर थोपा जा रहा है, इसी के साथ नाहन, सोलन मंडी, बिलासपुर और हमीरपुर समेत अन्य जगहों से मरीज यहां शिफ्ट किए जा रहे हैं।

इसी के साथ यही वजह है कि अस्पताल मरीजों से भरे चुके हैं तथा कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रदेश में विभिन्न कार्यक्रम किये जा रहे है, तथा कोरोना से बचाव के लिए लोगो को जागरूक किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *