भानुपल्ली-बिलासपुर-लेह रेललाइन की लगत मूल लागत से दोगुना पहुंची

rail line in himachal

हिमाचल प्रदेश में सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण भानुपल्ली-बिलासपुर-लेह रेललाइन के प्रथम चरण में 63.1 किलोमीटर हिस्से की अनुमानित लागत तथा मूल लागत से दोगुना से ज्यादा पहुंच चुकी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की भानुपल्ली से प्रदेश के जिला बिलासपुर के बैरी तक प्रथम चरण की अनुमानित मूल लागत 2,966 करोड़ थी।

प्रथम चरण के 63.1 किलोमीटर हिस्से की अनुमानित लागत 3,787 करोड़ बढ़ गई

इसी के साथ बताया जा रहा है की जो अब 6,753 करोड़ पहुंच गई है, साथ ही प्रथम चरण के 63.1 किलोमीटर हिस्से की अनुमानित लागत 3,787 करोड़ बढ़ गई है, वहीं 12 वर्षों में इस परियोजना पर 666 करोड़ रुपये खर्च

हो चुके हैं, साथ ही उत्तर रेलवे ने सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय को दी रिपोर्ट में प्रोजेक्ट मार्च 2025 तक पूरा करने का दावा किया है।

साल 2008 में भानुपल्ली-बिलासपुर-बैरी रेललाइन को अप्रूवल मिला

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा ही की साल 2008 में भानुपल्ली-बिलासपुर-बैरी रेललाइन को अप्रूवल मिला है इस उत्तर रेलवे के इस प्रोजेक्ट का जिम्मा रेल विकास निगम के पास है, साथ ही इसका वर्तमान

स्टेटस यह है कि भानुपल्ली से दरोट तक इसके 7 पुलों और 7 टनलों पर काम चल रहा है, जिसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।

रेललाइन में टनलों के साइट इंजीनियर उपेंद्र परमार ने दी जानकारी

साथ ही टनलों का 20 फीसदी काम पूरा हो चुका है, इसी के साथ मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की इस रेललाइन में टनलों के साइट इंजीनियर उपेंद्र परमार ने बताया कि टनल निर्माण शुरू करने में ज्यादा

समय लगता है, लेकिन इसके बाद इनका कार्य तीव्र गति से होता है, साथ ही इस रेललाइन में बजट में एक किलोमीटर लंबा पुल बनाया जा रहा है, जो इस रेल लाइन के लिए बहुत ही जरूरी और महत्वपूर्ण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *