डॉ. नम्रता चौधरी और डॉ. कार्तिक शर्मा का चयन PGI चंडीगढ़ में पीजी के लिए हुआ

docter

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर की धारटीधार क्षेत्र की रहने वाली डॉ. नम्रता चौधरी का चयन PGI चंडीगढ़ में पीजी मनोचिकित्सक के लिए हुआ है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की अब PGI चंडीगढ़ से

एमडी करेंगी, इसी के साथ बताया जा रहा है की सुरेश चौधरी ने बताया कि उनकी भतीजी डॉ. नम्रता चौधरी साढ़े 3 वर्षों से शिलाई सिविल अस्पताल में एमबीबीएस सेवाएं दे रही है।

पीजीआई चंडीगढ़ में पीजी मनोचिकित्सक के लिए चयन हुआ

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की अब पीजीआई चंडीगढ़ में पीजी मनोचिकित्सक के लिए चयन हुआ है, इसी के साथ डॉ. नरेश चौधरी और माता संगीता चौधरी शिक्षा विभाग में प्रवक्ता पद पर तैनात है, साथ ही

बताया जा रहा है की नम्रता का भाई डॉ. कार्तिक चौधरी भी करनाल से एनडीआरआई कर रहा है, इसी के साथ डॉ. नम्रता अपनी सफलता का श्रेय अपने परिजनों को देती हैं।

हमीरपुर के भोरंज तहसील के ठारागांव निवासी डॉ. कार्तिक शर्मा

इसी के साथ बताया जा रहा है की गिरिपार के शिलाई क्षेत्र में सेवाएं दे रहे चिकित्सक डॉ. कार्तिक शर्मा का PGI चंडीगढ़ में पीजी के लिए चयन हो गया है, साथ ही पिछले 02 वर्षों से शिलाई क्षेत्र में सेवाएं दे रहे हैं, साथ ही

बताया जा रहा है की हिमाचल प्रदेश में राजपूत महासभा सिरमौर अध्यक्ष नरेश चौधरी ने कहा कि मूल रूप से जिला हमीरपुर के भोरंज तहसील के ठारागांव निवासी डॉ. कार्तिक शर्मा वर्तमान में शिलाई सिविल अस्पताल में बतौर इंचार्ज कार्यरत है।

डॉ. कार्तिक का भी PGI चंडीगढ़ में सर्जरी में पीजी के लिए चयन हो गया

इसी के साथ यह भी कहा जा रहा है की डॉ. कार्तिक का भी PGI चंडीगढ़ में सर्जरी में पीजी के लिए चयन हो गया है साथ ही जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है

की उन्होंने इसका श्रेय अपने माता पिता को दिया है, साथ ही पिता नंदलाल शर्मा जिला मंडी में प्रिंसिपल पद पर और माता हमीरपुर वाणिज्य विषय की प्रवक्ता पद पर कार्यरत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *