102 वर्षीय सेवानिवृत्त कैप्टन रुमेल सिंह पठानिया खुद स्कूटी चलाकर वोट डालने मतदान केंद्र पहुंचे

panchayat himachal

हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के विकास खंड फतेहपुर की पंचायत लाड़थ के वरोह गांव में पंचयती चुनावो में एक 102 वर्षीय सेवानिवृत्त कैप्टन रुमेल सिंह पठानिया खुद स्कूटी चलाकर वोट डालने मतदान केंद्र पहुंचे,

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की देश की रक्षा की खातिर 03 जंगों में दुश्मनों के दांत खट्टे करने वाले कैप्टन रुमेल सिंह इस उम्र में भी बिना चश्मा खुद स्कूटी चलाते हैं।

अपने दायित्व का बखूबी निर्वहन करने वाला व्यक्ति हमेशा सफल होता

इसी के साथ बताया जा रहा है की उनका जन्म 19 जनवरी,1919 को हुआ था, साथ ही उन्होंने वोट डालने के बाद जानकारी देते हुए बताया कि ईमानदारी से अपने दायित्व का बखूबी निर्वहन करने वाला व्यक्ति हमेशा

सफल होता है, साथ ही उन्होंने नए पंचायत प्रतिनिधियों को उपरोक्त संदेश के माध्यम से बताया कि आने वाला समय उनका है।

उन्होंने कहा की उनका आचरण बहुत ऊंचा होना चाहिए

इसी के साथ उन्होंने कहा की उनका आचरण बहुत ऊंचा होना चाहिए, जबकि पद पर आसीन होकर निष्पक्ष भाव, सूझबूझ व पंचायत में विकास के आयाम पैदा

करके अपनी परिपक्वता को दर्शाकर जनता की खुशी को प्राथमिकता दें, तथा सही उमीदवार को चुन कर गांव का विकास करने में अपना सहयोग दे।

सुबह 04 बजे करते है पूजा और योगा

इसी दौरान उन्होंने अपनी तंदरुस्ती पर कहा कि वह सुबह 04 बजे उठते हैं तथा फिर नहाकर मंदिर में जाकर शंख ध्वनि के साथ पूजा-पाठ करते हैं, इसी के साथ उन्होने कहा की अनुलोम-विलोम और अन्य योगासन कर

खेतों में काम करते हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि इरादा मजबूत हो तो मंजिल दूर नहीं होती, हर व्यक्ति को अपने अन्य कामकाजो के साथ अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान रखना चाहिए।

102 वर्षीय सेवानिवृत्त कैप्टन रुमेल सिंह पठानिया की दिनचर्या

जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है की अपनी दिनचर्या पर उन्होने कहा कि सुबह पूजा, पाठ के उपरांत शारीरिक कमजोरी के चलते दूध के साथ दवाई लेते हैं, साथ ही फिर नाश्ते में 02 छोटी चपाती-सब्जी, दोपहर व रात के भोजन में 03 चपाती व

दाल या सब्जी लेते हैं, इसी के साथ उन्होने कहा की वो शराब, धूम्रपान, नॉन वेज व चाय से परहेज करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *