हिमाचल में आपाराधिक मामलों का ग्राफ पहली बार 20 हजार पहुंचा

हिमाचल प्रदेश में सालाना दर्ज किए जाने वाले आपाराधिक मामलों का ग्राफ पहली बार 20 हजार के आंकड़े को पार कर लिया है, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की प्रदेश में 2020 में विभिन्न श्रेणियों के तहत

दर्ज मामलों की संख्या 20630 रही है, इसी के साथ 2014 से 2017 तक हिमाचल प्रदेश में आपराधिक मामलों की संख्या 17 हजार से अधिक रही थी।

2019 में यह आंकड़ा 19 हजार को पार कर लिया

साथ ही 2018 और 2019 में यह आंकड़ा 19 हजार को पार कर गया था, साथ ही आंकड़े बताते हैं कि बीते 10 साल के दौरान केवल 02 बार सालाना दर्ज किए गए

जाने वाले अपराधों की संख्या 16 हजार से कम रही है, इसी के साथ प्राप्त आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में 2012 में 15937 और 2013 में 15733 मामले सामने आए है।

2014 में हिमाचल प्रदेश में 17122 आपराधिक मामले दर्ज

इसी के साथ बताया जा रह है की 2014 में हिमाचल प्रदेश में 17122 आपराधिक मामले दर्ज किए गए है, इसी के साथ 2015 में यह आंकड़ा कुछ बढ़कर 17221 पर पहुंच गया है, साथ ही जबकि 2016 में प्रदेश में 17249 क्राइम के मामले सामने आए थे।

2018 में हिमाचल प्रदेश में कुल 19594 मामले दर्ज किए गए

साथ ही 2017 में यह ग्राफ बढ़कर 17799 तक जा पहुंच गया था, इसके बाद 2018 में हिमाचल प्रदेश में कुल 19594 मामले दर्ज किए गए है। जबकि 2019 में अपराधों का ग्राफ 19924 रहा, जबकि 2020 में यह आंकड़ा

पहली बार 20 हजार को पार कर 20630 तक जा पहुंचा है, 2020 के कुल 20630 मामलों में से आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत 14798 तो स्पेशल लॉ के अंर्तगत कुल 5832 मामले दर्ज किए गए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *