आईआईटी मंडी के शोधकर्ताओं ने किया एक अनोखा इलेक्ट्रानिक सर्किट तैयार

अब यदि आप भी अपने घर में बिजली के अचानक वोल्टेज बढ़ने या घटने से परेशान है तो आप को अब घबराने की कोई जरूरत नहीं है, अब लैपटॉप, टैबलेट, मोबाइल फोन या अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरण खराब नहीं होंगे,

प्राप्त जानकारी के अनुसार आईआईटी मंडी के शोधकर्ताओं ने ऐसा इलेक्ट्रानिक सर्किट तैयार किया है, जिसे से उपकरणों में लगाने से वोल्टेज कम होने या बढ़ने का फर्क नहीं पड़ेगा।

इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों की उम्र बढ़ाने और लंबे समय तक गुणवत्ता बनाए रखने में सहायक होगा

साथ ही बताया जा रहा है की यह रोजमर्रा के इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों की उम्र बढ़ाने और लंबे समय तक गुणवत्ता बनाए रखने में सहायक होगा, साथ ही इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (एमईआईटीवाई) के वित्त

पोषण से किए जा रहे इस शोध कार्य के परिणाम हाल ही में आईईईई ओपन जर्नल ऑफ सर्किट्स एंड सिस्टम्स में प्रकाशित किए गए गए।

IIT जोधपुर के डॉ. जय नारायण त्रिपाठी ने इस शोध में अहम भूमिका निभाई

हिमाचल प्रदेश में जिला मंडी में स्तिथ इस आईआईटी के कंप्यूटिंग और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग स्कूल के एसोसिएट प्रो डॉ. हितेश श्रीमाली और उनके

शोध विद्वान विजेंद्र कुमार शर्मा के साथ IIT जोधपुर के डॉ. जय नारायण त्रिपाठी ने इस शोध में अहम भूमिका निभाई है।

मिश्रित इलेक्ट्रॉनिक सर्किटरी के सूक्ष्म पार्ट्स के डिजाइन तैयार किए

साथ ही कहा जा रहा है की वैज्ञानिकों के अनुसार बिजली के फ्लक्चुएशन में भी उपकरणों के कंपोनेंट अधिक सुरक्षित रहें, सात ही कहा जा रहा है की इसके लिए मिश्रित इलेक्ट्रॉनिक सर्किटरी के सूक्ष्म पार्ट्स के डिजाइन तैयार किए हैं,

साथ ही बताया जा रहा है की जिससे सर्किट डिवाइस की स्पीड, पावर, गेन, डिस्टार्शन के स्तर आदि तमाम पहलुओं को देखते हुए विशिष्टताओं

को अनुकूलन किया जा सकेगा, तथा अब बिजली के अचानक वोल्टेज बढ़ने या घटने से इलेक्ट्रानिक उपकरण के ऊपर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *