कैबिनेट की बैठक में लिए गए बहुत से महत्पूर्ण निर्णय, 06 दिन के कार्य दिवस भी बहाल

jairam thakur himachal

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में मंगलवार को आयोजित की गई हिमाचल प्रदेश की कैबिनेट की बैठक में बहुत से महत्पूर्ण तथा बड़े फैसले लिए गए हैं, प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है

की कैबिनेट ने प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले घटने के बाद मंत्रिमंडल ने राजधानी शिमला, जिला कांगड़ा, मंडी और कुल्लू में लगाए गए रात्रि कर्फ्यू को हटाने की मंजूरी दे दी है।

आंतरिक बैठकों में 50 से अधिक लोगों को अनुमति नहीं देने की शर्त में भी छूट दी गई

इसी के साथ बताया जा रहा की हिमाचल प्रदेश के सभी सरकारी कार्यालयों में पहले की तरह 06 दिन के कार्य दिवस भी बहाल कर दिए गए हैं साथ ही बताया जा रहा है की हिमाचल प्रदेश चुनाव आयोग के आग्रह पर आंतरिक बैठकों में 50 से अधिक लोगों को अनुमति नहीं देने की शर्त में भी छूट दी गई है।

पंचायती राज चुनावों से संबंधित प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रभावी तरीके से चलाने में मदद मिलेगी

इसी के साथ बताया जा रहा है की इससे पंचायती राज चुनावों से संबंधित प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रभावी तरीके से चलाने में मदद मिलेगी, साथ ही बताया जा रहा है की प्रदेश में अन्य आयोजनों और राजनीतिक समारोहों में कोई

छूट नहीं दी गई है साथ ही इस बैठक में कोचिंग कक्षाओं को भी 50 प्रतिशत क्षमता के साथ शुरू करने की सरकार ने अनुमति दे दी है।

राज्य शिक्षा विभाग की ओर से मानक संचालन प्रक्रिया जारी की जाएगी

जानकारी के अनुसार इसके लिए राज्य शिक्षा विभाग की ओर से मानक संचालन प्रक्रिया जारी की जाएगी ,साथ ही इस बैठक में पशुपालन विभाग ने बर्ड फ्लू पर भी प्रस्तुति दी है, साथ ही कहा जा रहा है की इस मंत्रिमंडल ने

स्वास्थ्य और पशुपालन विभागों को उचित दवाओं और कर्मचारियों के लिए पीपीई किट की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा है, ताकि सभी कर्मचारीयो को इस वायरस से सुरक्षित रखा जा सके।

सिंगल विंडो मनोनयन शुरू करने को भी मंजूरी

इसी के साथ हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा के उपायुक्त की ओर से आवागमन के लिए लगाए गए प्रतिबंधों की भी सख्ती से अनुपालना करने के निर्देश दिए हैं, साथ ही बताया जा रहा है की मंत्रिमंडल ने हिमाचल में आयुष्मान

भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना तथा हिम केयर योजना और राजकीय चिकित्सा प्रतिपूर्ति योजना के प्रभावी कार्यान्वयन के लिए निजी अस्पतालों के पंजीकरण के लिए सिंगल विंडो मनोनयन शुरू करने को भी मंजूरी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *