हिमाचल में राज्यपाल से माफी मांगे कांग्रेस, राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने दी जानकारी

anurag

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेसियों के पास जब कोई मुद्दे न हों इसी के साथ प्राप्त जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है की तो वे ओच्छी हरकत पर उतर आते हैं, साथ ही कहा जा रहा है की संसद में उनके झूठ के पुलिंदे के कारण

उनके चेहरे बेनकाब हुए है, साथ ही राज्य वित्त मंत्री अनुराग ठाकुर ने काँगड़ा के पालमपुर में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कही है।

कांग्रेस की ओच्छी हरकत ने हिमाचल प्रदेश को शर्मसार किया गया

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की उन्होंने कहा कि विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण के बाद काफी समय होता है, साथ ही उस समय त्रुटियां, कमियां और आलोचनाएं हो सकती थी, साथ ही कहा जा

रहा है की देश और दुनिया के विषय उठाए जा सकते थे, लेकिन कांग्रेस की ओच्छी हरकत ने हिमाचल प्रदेश को शर्मसार किया गया है।

राज्यपाल से माफी मांगें तथा सत्र में भाग लेकर जनता से जुड़े मुद्दे उठाएं गए

साथ ही कांग्रेस के नेताओं को चाहिए कि वे राज्यपाल से माफी मांगें तथा सत्र में भाग लेकर जनता से जुड़े मुद्दे उठाएं गए है, इसी के साथ कहा जा रहा है की उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के कारण दुनिया के साथ भारत की अर्थव्यवस्था भी

प्रभावित हुई है, लेकिन प्रधानमंत्री की नीतियों के कारण अब अर्थव्यवस्था फिर पटरी पर लौटने लगी है।

हिमाचल के लिए जितने अधिक प्रोजेक्ट मिले

हिमाचल प्रदेश के जिला काँगड़ा के पालमपुर में सेंट्रल यूनिवर्सिटी स्थापित किए जाने के मुद्दे पर अनुराग ने कहा कि उनका प्रयास रहेगा कि हिमाचल के लिए जितने अधिक प्रोजेक्ट मिले है, साथ ही उसके लिए वह हमेशा प्रयासरत रहेंगे।

प्रोजेक्ट प्राथमिकता के आधार पर देश के हर कोने में खोलने के प्रयास किए गए

इसी के साथ बताया जा रहा है की भाजपा ने एम्स, IIM, IIT, ट्रिपल IT, NIT तथा सेंट्रल यूनिवर्सिटी के अनेक प्रोजेक्ट प्राथमिकता के आधार पर देश के हर

कोने में खोलने के प्रयास किए गए हैं, इसी के साथ कहा जा रहा है की महंगाई पर चर्चा करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सन 2013-14 में जब कांग्रेस सत्ता में थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *