प्रदेश में कोरोना वायरस का टिका लगाने के लिए 66 प्राइवेट अस्पतालों की लिस्ट जारी

himachal vacsin

हिमाचल प्रदेश में 66 प्राइवेट अस्पतालों की लिस्ट जारी कर दी गई है, इसी के साथ प्राप्त जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है कि हिमाचल प्रदेश में स्तिथ इन अस्पतालों में कोविड का टीका लगाया जाएगा, इसी के साथ कहा जा रहा है की इसके लिए रेट भी तय कर दिए गए हैं।

250 रुपए इस कोरोना के एक टीके का शुल्क रखा गया

बताया जा रहा है की 250 रुपए इस कोरोना के एक टीके का शुल्क रखा गया है, साथ ही बताया जा रहा है की बहरहाल जल्द ही प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा तथा वहीं, तीसरे चरण का वैक्सीनेशन भी हिमाचल प्रदेश में आज पहली मार्च से शुरू होने जा रहा है।

गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगो को जल्द ही यह टिका लगाया जाएगा

साथ ही बताया जा रहा है की 60 साल से अधिक आयु वर्ग के वरिष्ठ नागरिकों को तीसरे चरण में ये वैक्सीनेशन दी जाएगी, साथ ही कहा जा रहा है की इसके अलावा 45 साल से अधिक आयु वर्ग के लोग जो भी गंभीर बीमारियों से ग्रसित हैं उन्हें भी यह डोज दी जाएगी।

पहले और दूसरे चरण में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 01 लाख क्रॉस कर चुका

प्राप्त जानकारी के अनुसार कहा जा रहा है की गौर रहे कि हिमाचल प्रदेश में वैक्सीनेशन अभियान बड़ी तेजी से चल रहा है और पहले और दूसरे चरण में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 01 लाख क्रॉस कर चुका है, इसी के साथ बताया जा रहा है की राज्य में 10 फरवरी से कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू हुआ था।

पहले चरण का कोविड वैक्सीनेशन का प्रोग्राम 09 फरवरी तक चला

साथ ही कहा जा रहा है की दूसरे चरण में पुलिस कर्मियों समेत राजस्व अधिकारियों, कर्मचारियों को ये वैक्सीन लगाई गई है, साथ ही बताया जा रहा है की वहीं पहले चरण का कोविड वैक्सीनेशन का प्रोग्राम 09 फरवरी तक खत्म हो गया था।

अब तीसरे चरण अन्य मरीजों को इसमें कवर किया जा रहा

साथ ही अभी तक 50 हजार से ज्यादा हैल्थ केयर वर्कर्ज को हिमाचल प्रदेश में टीका लग चुका है और अब तीसरे चरण अन्य मरीजों को इसमें कवर किया जा रहा है तथा हिमाचल प्रदेश में परिमहल में ही राज्य स्तरीय वैक्सीन स्टोर बनाया गया है, साथ ही हिमाचल प्रदेश में सभी को इस कोरोना का टिका लगाया जाएहा ताकि इस कोरोना से प्रदेश के हेल्थ वर्करों को सुरक्षित रखा जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *