माकपा नेता राकेश सिंघा ने बजट को लेकर जयराम सरकार पर लागए गंभीर आरोप

rakesh

हिमाचल प्रदेश में माकपा नेता राकेश सिंघा ने बजट पर सरकार पर गंभीर आरोप लगाए है। सिंघा ने प्रदेश सरकार को चार्जशीट कर दिया। उनका यह कहना था कि जो तीन दस्तावेज अभी तक सरकार की ओर से आए गए हैं, उनमें से आंकड़े मेल नहीं खाते हैं।

जानकारी के अनुसार उन्होंने यहां तक आरोप जड़ा कि सरकार ने बजट में जो आंकड़े लाने थे, वे उससे पहले इकोनामिक सर्वेक्षण में ही डाल दिए गए है। उनका कहना है की यह बजट के सिद्धांत के खिलाफ है।

इकोनामिक सर्वे के बाद बजट भाषण, जिसके आंकड़े नहीं खा रहे मेल

इसी के साथ उन्होंने तेजतर्रार अंदाज में राकेश सिंघा से यह भी कहा कि वह सरकार को चुनौती देते हैं कि उनके मंत्रियों तक ने दस्तावेज नहीं पढ़े हैं। इससे पहले अभिभाषण फिर इकोनामिक सर्वे जिसके बाद बजट भाषण, जिसके आंकड़े मेल नहीं खा रहे हैं। प्रदेश सरकार द्वारा आवाम को गुमराह कर रही है।

इसके साथ ही सिंघा की इन बातों पर सदन के माहौल में जोश भर गया और मुख्यमंत्री भी तब वापस सदन में पहुंच गए। उनकी बातों पर विपक्ष की ओर से मुकेश अग्निहोत्री व आशा कुमारी टेबल थपथपाते हुए दिखे।

इसी के साथ सिंघा ने कृषि क्षेत्र को संकट में बताया

इसी के साथ उन्होंने सेवा संकल्प योजना के आंकड़ों की बात की तो मंत्री डा। रामलाल मार्कंडेय ने विरोध करते हुए कहा की इसमें शिकायतों के आंकड़े रोजाना बदलते हैं। इसके साथ ही सिंघा ने कृषि क्षेत्र को संकट में बताया और प्रदेश में स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट को लागू करने की मांग की है।

हिमाचल प्रदेश सरकार विधायक राकेश सिंघा ने कहा कि वर्तमान में जो नीति कृषि क्षेत्र के लिए अपनाने की बात की जा रही है, उससे बड़ा संकट हो जाएगा।

CPI (M) leader Rakesh Singha made serious allegations against Jairam government over budget

Recommended For You

About the Author: Aakanksha Kathoch