हिमाचल प्रदेश में ताज़ा हिमपात, प्रदेश के कई उच्च स्थानों में हुई बर्फबारी, निचले क्षेत्र बारिश से प्रभावित

हिमाचल प्रदेश में बहुत से उच्च स्थानों में भारी मात्रा में बर्फ़बारी और बारिश का केहर फैला हुआ है, प्रदेश के जिला कुल्लू और जनजातीय क्षेत्र लाहौल में तीन दिनों से मौसम बेहद खराब है। गुरुवार रात को भारी बर्फबारी से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। जिस बजह से स्थानीय निवासियों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

कुल्लू स्पीति में स्तिथ रोहतांग पास में रिकॉर्ड की गयी तीन फीट ताजा बर्फबारी हुई है। जबकि कोकसर और मढ़ी में दो फीट, सिस्सू में एक फीट, सोलंगनाला और जलोड़ी दर्रा में 20-20 सेंटीमीटर बर्फबारी रिकॉर्ड की गई है। जिस बजह से प्रदेश में मौसम बेहद ठण्डा हो गया है।

बर्फबारी की बजह से लाहौल में हिमखंड गिरने का खतरा बढ़ गया है

हिमचाल में हुए खराब मौसम के दौरान लाहौल में हिमखंड गिरने का खतरा बढ़ गया है। इसी के साथ लारजी-सैंज मार्ग स्थित पागलनाला 24 घंटे के भीतर 03 बार बंद रहा। जिस वजह से रात करीब 02 बजे नाले में बाढ़ आने से 08 घंटे बाद सड़क मार्ग खोला गया।

इससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बताया जा रहा है की सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गईं। बर्फबारी की बजह से यहां का यातायात भी प्रभावित हुआ है।

कुल्लू में तेज आंधी-तूफान के कहर से कई इलाकों को हुई परेशानी

इसी के साथ प्रदेश का लोकप्रिय पर्टयक स्थान जिला कुल्लू में तेज आंधी-तूफान के कहर से कई इलाकों में रातभर बिजली नहीं थी। अंधड़ से कई जगह पेड़ों के गिरने से बिजली के तारों को नुकसान पहुंचा है जिस बजह से बिजली चली गयी है। प्रदेश राजस्व विभाग नुकसान का आकलन करने में जुट गया है। यही नहीं इस बारिश में लोगों को दूसरे के घरों में शरण लेने को मजबूर होना पड़ रहा है।

चम्बा जिला के गरोला में दो मंजिला स्लेटपोश मकान गिर गया

हिमाचल के जिला चंबा में हुई बर्फबारी ने लोगों की दिक्कतें बढ़ा दी हैं। बारिश की बजह से गरोला में दो मंजिला स्लेटपोश मकान गिर गया। इसी साथ शेरपुर में दीवार तोड़कर चार घरों में दलदल जा घुस गया जिस बजह से परिवारों को गांव के लोगों के घरों में रात गुजारनी पड़ी।

प्रदेश में हुई बर्फबारी के कारण कई संपर्क मार्ग अवरुद्ध हैं। चम्बा जिला के लोकप्रिय पर्टयक स्थान डलहौजी पांगी, भरमौर सहित अन्य क्षेत्रों में ताजा हिमपात हुआ है। जिस बजह से चंबा-जोत, चंबा-भरमौर व चंबा-तीसा सड़क मार्ग पर भी हिमपात के कारण यातायात बेहाल है।

राजधानी शिमला भी बारिश से प्रभावित

बारिश के केहर से राजधानी शिमला नहीं नहीं बच पाई शिमला जिले के नारकंडा में नेशनल हाईवे 05 और जलोड़ी जोत में एनएच 305 वाहनों की आवाजाही के लिए बाधित है। प्रदेश की निगम की बसें रामपुर से वाया बसंतपुर होकर भेजी जा रही हैं।

इसी के साथ जलोड़ी जोत में एनएच बाधित होने से आनी और निरमंड क्षेत्र का जिला मुख्यालय से संपर्क कट गया है। जिस बजह से निरमंड से आवा जाहि बंद हो गयी है। इसी साथ शिमला की पहाड़ियों में ताज़ा बर्फबारी हुई है।

Fresh snowfall in Himachal Pradesh, snowfall in many high places of the state, low area affected by rain

Abhishek Pathania

Next Post

हिमाचल के प्रसिद्ध धार्मिक स्थान शाहतलाई में चैत्र मेलों की तैयारियां हुई शुरू

Fri Mar 13 , 2020
हिमाचल प्रदेश के जिला हमीरपुर में स्तिथ धार्मिक स्थान शाहतलाई बाबा बालक नाथ की तपोभूमि में मार्च महीने से होने […]
baba balak nath

News ticker