ABVP कार्यकर्ताओं ने खूब की नारेबाजी, शिक्षा के व्यापारीकरण के खिलाफ किया धरना-प्रदर्शन

abvp

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ऊना इकाई के द्वारा बुधवार को शिक्षा के व्यापारीकरण के खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया गया। इस उपरांत ABVP कार्यकर्ताओं ने खूब नारेबाजी करके अपना गुव्वार निकाला। इकाई अध्यक्ष करन, मुकुल, पंकज, विनोद, तनु, नवदीप, विशाली, नीतिका, तरुण, चंदन, अभिषेक, आशु, पारस, प्रताप ठाकुर, अशोक और राहुल ने कहा कि धरना प्रदेश में शिक्षा के एवं फर्जीवाड़े के खिलाफ किया गया।

10 से ज्यादा निजी विश्वविद्यालय खोले गए तो छात्र परिषद ने किया था इसका विरोध

2009 में जब प्रदेश में एक साथ 10 से ज्यादा निजी विश्वविद्यालय खोले गए तो छात्र परिषद ने इसका विरोध भी किया था। छात्र परिषद के द्वारा मांग की गई थी कि छोटे से प्रदेश में इतने ज्यादा निजी विश्वविद्यालय को खोलना ठीक नहीं है, ये गुणात्मक शिक्षा की बजाय शिक्षा को बेचने का मार्ग बन जाएगा। छात्र परिषद ने उस वक्त शिक्षा के व्यापारीकरण के खिलाफ प्रदेश व्यापी आंदोलन किया था। शिक्षा के व्यापारीकरण को बंद करने की मांग भी की गई थी।

महाविद्यालय में फर्जी Degrees बेचने का मामला आया सामने

लेकिन आज यह सच साबित हुआ है। सबके सामने एक निजी महाविद्यालय में फर्जी Degrees बेचने का मामला सामने आया है। छात्र परिषद द्वारा प्रदेश सरकार से मांग की जाती है कि प्रदेश की सभी निजी महाविद्यालय एवं शिक्षण संस्थानों की सही जांच की जाए जिससे कि शिक्षा के व्यापारी करण के कुकृत्य न हो जो छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करें वह प्रदेश की छवि को खराब करें।

निजी महाविद्यालय की निगरानी हेतु बने नियामक आयोग की ली जाए जवाबदेही : छात्र परिषद

छात्र परिषद मांग करती है की निजी महाविद्यालय की निगरानी हेतु बने नियामक आयोग की भी जवाबदेही ली जाए, जिससे कि उनकी निगरानी में ही प्रदेश के अंदर इतना बड़ा Fraudulent कैसे हो रहा है। छात्र परिषद सरकार से मांग करती है कि शीघ्र सभी निजी महाविद्यालय की जांच की जाए, नहीं तो छात्र परिषद प्रदेश व्यापी आंदोलन से परहेज नहीं करेगी।

Recommended For You

About the Author: Ganesh Sharma