हिमाचल प्रदेश के ऊना जिल के युवक ने अमेरिका में नौकरी छोड़ कर अगरबत्ती का कारोबार किया शुरू

agrbti

हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना के स्थाई निवासी ने देश के नामी संस्थान से बीटेक और एमबीए की रविंद्र पराशर ने स्वरोजगार की राह चुनी। उन्होंने अमेरिका में नौकरी छोड़ ऊना के भद्रकाली पंचायत निवासी रविंद्र पराशर ने सरकार की स्टार्ट अप योजना के तहत हर्बल अगरबत्ती बनाने का व्यवसाय शुरू किया और अपने

घर छोटा यूनिट लगाया जिस से उन्हें काफी लाभ पहुंच रहा है। इससे वह अच्छी-खासी कमाई कर रहे हैं। उनके उद्योग में लगभग 18 लोगों को रोजगार मिला है। उनके इस व्यवसाय में अधिकतर महिलाएं शामिल हैं।

स्टार्ट अप योजना में सरकार की ओर से प्रतिमाह 25 हजार प्रोत्साहन भत्ता

सरकार द्वारा लागू स्टार्ट अप योजना से प्रेरित होकर रविंद्र पराशर ने उद्योग विभाग को नवंबर 2018 में मंदिर के फूलों से हर्बल अगरबत्ती का उद्योग लगाने का आइडिया दिया। इसी दौरान उन्हें डॉ। वाईएस परमार बागवानी एवं वाणिकी विश्वविद्यालय नौणी भेजा गया।

यहां वैज्ञानिकों ने उन्हें बारीकियां बताईं। इस दौरान उन्हें स्टार्ट अप योजना में सरकार की ओर से प्रतिमाह 25 हजार प्रोत्साहन भत्ता भी दिया गया। जिस से वो अपने इस व्यवसाय को सुचारु रूप से चला सके।

अमेरिका की एक (MNC) में कर चुके है काम

ऊना का यह लाल रविंद्र पराशर अमेरिका में एक (MNC) में भी काम किया है। अमेरिका की एक एमएनसी में नौकरी करने के दौरान उन्होंने अपना खुद का एक व्यवसाय करने की सोची। यह ही नहीं रविंद्र पराशर अमेरिका और चीन की यात्रा भी कर चुके हैं। वह युवान ब्रांड नाम से प्रतिमाह 8 किलोग्राम से अधिक अगरबत्ती का उत्पादन कर रहे हैं।

रविंद्र द्वारा तैयार की गयी अगरबत्तियो में चार सुगंधों की अगरबत्ती शामिल है। जिनकी मांग हिमाचल ही नहीं बल्कि देश विदेश में है। इसके उत्पादन के लिए फूलों की सुगंध का इस्तेमाल किया जाता है और यह फूल मंदिरों से एकत्र किए जाते हैं।

ई-कॉमर्स के माध्यम से भी मार्केट पर उतार रही अगरबत्तिया

जिन्हें भगवान को अर्पित करने के बाद फेंक दिया जाता है। उन्ही का यह इस्तेमाल कर के इन चार सुगंधों की अगरबत्ती को बनाते है। यह ही नहीं बल्कि अगरबत्ती को वह ई-कॉमर्स के माध्यम से भी मार्केट पर उतार रहे है। उन्हें काफी ऑर्डर विदेश से मिल रहे हैं। वह एक्सपोर्ट को लेकर भी बात कर रहे हैं। इन के द्वारा निर्माणित अगरबत्तीयो की दिन प्रतिदिन मांग बढ़ रही है।

Young man from Una district of Himachal Pradesh quit his job in America and started trading in agarbatti

 

Recommended For You

About the Author: Ganesh Sharma